Close X
Friday, February 26th, 2021

दिल्ली पहुंचा बर्ड फ्लू    

चिड़ियाघर निदेशक ने बताया कि बर्ड फ्लू की दस्तक के बाद पक्षियों को आइसोलेट किया जा रहा है। इसके अलावा लगातार निगरानी रखी जा रही है। उनके बर्ताव और स्वास्थ्य का पूरा ख्याल रखा जा रहा है। उन्होंने कहा कि रोजाना नियमित अंतराल पर चूना, विर्कन-एस, सोडियम हाइपोक्लोराइड और पोटैशियम परमैगनेट का छिड़काव किया जा रहा है।

दिल्ली के चिड़ियाघर में बर्ड फ्लू की पुष्टि हो गई है। चिड़ियाघर में मरे मिले उल्लू को बर्ड फ्लू जांच के लिए भेजा गया था। उसका सैंपल पॉजिटिव पाया गया है। चिड़ियाघर के निदेशक रमेश पांडेय ने शनिवार को बताया कि जांच में उल्लू में एच-5 एन-8 एवियन इन्फ्लुएंजा की पुष्टि हुई है।

रमेश पांडेय ने बताया कि मरे उल्लू के नमूनों को आरटीपीसीआर जांच के लिए भोपाल स्थित राष्ट्रीय उच्च सुरक्षा व पशु रोग संस्थान (एनआईएचएसएडी) भेजा गया था। शुक्रवार को ही उल्लू में बर्ड फ्लू होने की पुष्टि कर दी गई थी। उन्होंने कहा कि केंद्र और दिल्ली सरकार की तरफ से जो भी गाइडलाइंस जारी की गई हैं, उनको ध्यान में रखते हुए मौजूदा समय चिड़ियाघर के अंदर निगरानी बढ़ा दी गई है। चिड़ियाघर में सैनिटाइजेशन किया जा रहा है।


चिड़ियाघर के अंदर वाहनों के प्रवेश पर पूरी तरह से रोक लगा दी गई है। चिड़ियों के परिक्षेत्र में बिना आवश्यक कर्मचारियों के भी आनेजाने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। चिड़ियाघर में देशी व विदेशी प्रजातियों के पक्षियों की तादाद अच्छी खासी है। प्रशासन उनकी सुरक्षा के प्रयास में जुट गया है। PLC.

Comments

CAPTCHA code

Users Comment