Tuesday, January 21st, 2020

दिल्ली में वाहनों की पार्किंग एक गंभीर मुद्दा

नई दिल्ली । राजधानी में बढ़ती वाहनों के चलते पार्किंग  एक गंभीर समस्य़ा बनती जा रही है।  भाजपा के विजय गोयल ने शुक्रवार को कहा कि समय रहते ध्यान न देने पर आने वाले समय में शायद आधे से ज्यादा विवादों की जड़ ‘पार्किंग’ होगी। राज्यसभा में शून्यकाल के दौरान यह मुद्दा उठाते हुए गोयल ने कहा कि दिल्ली पुलिस को हर दिन पार्किंग संबंधी विवाद को लेकर करीब 250 फोन कॉल मिलती हैं। हालात संकेत दे रहे हैं कि ‘रोड रेज’ नहीं, बल्कि ‘पार्किंग रेज’ की घटनायें आने वाले समय में तेजी से बढ़ेंगी क्योंकि लोगों के घरों के आगे गाड़ियां गलत तरीके से खड़ी कर दी जाती हैं और गलत पार्किंग की वजह से झगड़े होने लगते है। गोयल ने कहा कि हाल ही में राष्ट्रीय राजधानी की तीस हजारी अदालत परिसर में वकीलों और पुलिस के बीच हुए विवाद का कारण भी पार्किंग ही था। हर माह कम से कम एक व्यक्ति की जान पार्किंग के विवाद के चलते जाती है। उन्होंने कहा कि दिल्ली में एक करोड़ वाहनों को पार्किंग के लिए जगह चाहिए। गोयल ने कहा कि यह समस्या पर्याप्त सार्वजनिक परिवहन व्यवस्था तथा लंबी दूरी तक संपर्क सुविधा के अभाव के कारण उत्पन्न हुई है क्योंकि ऐसे में लोग अपनी कारें निकालने के लिए मजबूर होते हैं। भाजपा सदस्य ने मांग की कि दिल्ली सरकार द्वारा, स्थानीय निकायों के अधिकारियों, लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को संयुक्त रूप से राष्ट्रीय राजधानी में पार्किंग की समस्या का अध्ययन कर समुचित समाधान निकाला जाना चाहिए। PLC

Comments

CAPTCHA code

Users Comment