तरुण विजय आई एन वी सी न्यूज़आई एन वी सी न्यूज़
देहरादून,
दलितों के मंदिर प्रवेश पर उत्तराखंड उच्च न्यायालय के निर्देश का  स्वागत करते हुए सांसद श्री तरुण विजय ने कहा कि दलित विरोधी मानसिकता को इस फैसले से अवश्य धक्का होगा।  उन्होंने  दौलत कुंवर तथा उनके सभी दलित  सहयोगियों   को बधाई देते हुए कहा कि  दलित विरोधी मानसिकता से  लड़ने के’लिए धैर्य और अम्बेडकर जैसी ना थकने और ना झुकने वाली संघर्ष शीलता चाहिए।  मंदिर प्रवेश से रोकने वाले अहंकारी हिन्दू अब पत्थरों से हिन्दुओं को मारने तक की बर्बरता दिखाते हैं और अधिकारी तथा नेता उसको न्यायोचित सिद्ध करने के बहाने ढूंढते हैं। जिस दिन दलितों ने मंदिर जाने की आवश्यकता ही छोड़ दी या हिन्दू ही नहीं रहे उस दिन ये बड़ी जात का अहंकार रख  पत्थर मारने वाले और मंदिर प्रवेश से हिन्दुओं को ही रोकने वाले क्या कर लेंगे ?

श्री तरुण विजय ने कहा कि दलितों के सम्मान के लिए मीडिया और न्यायपालिका का ही सहारा बचा है। वे तथाकथित उच्च जाति  की दलित विरोधी मानसिकता भारत के लिए अभिशाप मानते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here