Close X
Friday, December 4th, 2020

दलितों का अपमान करती रही है कांग्रेस

इंदौर । भाजपा नेता इमरती देवी को लेकर मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ की अभद्र टिप्पणी पर राज्यसभा सांसद दुष्यंत कुमार गौतम ने आक्रोश जताया। उन्होंने कहा कि दलितों को अपना गुलाम समझने वाली कांग्रेस द्वारा संविधान निर्माता डॉ  बीआर अंबेडकर के जमाने से इस समुदाय के लोगों का अपमान किया जाता रहा है। मध्यप्रदेश की 28 विधानसभा सीटों पर तीन नवंबर को होने वाले उप चुनाव के लिए भाजपा की स्टार प्रचारकों की सूची में शामिल भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव गौतम  ने कहा कि कांग्रेस नेता दलितों को लेकर कहते कुछ हैं और उनका व्यवहार कुछ और होता है।
उन्होंने संवाददाताओं से बातचीत में कहा कि कमलनाथ ने इमरती देवी को लेकर बेहद अभद्र भाषा का प्रयोग किया है। कांग्रेस द्वारा अनुसूचित जाति के लोगों के अपमान का यह कोई पहला मामला नहीं है। गौतम ने आरोप लगाया कि कांग्रेस अंबेडकर के जीवनकाल में उनका भी अपमान कर चुकी है। उनके निधन के बाद उनका अंतिम संस्कार दिल्ली में नहीं होने दिया गया था। उन्होंने कहा, कांग्रेस को लगता है कि उसे दलितों का वोट आसानी से मिल जाते हैं। वह मानने लगी है कि दलित उसके गुलाम हैं और आगे भी गुलाम बने रहेंगे।
गौतम ने कहा कि कांग्रेस के एक नेता द्वारा मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को नंगे-भूखे घर का बताए जाने को लेकर भी नाराजगी जताई। उन्होंने देश में कांग्रेस की पिछली सरकारों पर निशाना साधते हुए कहा, कांग्रेस नेता चौहान को नंगे-भूखे घर का बता रहे हैं, लेकिन हमारा कहना है कि देश के लोगों को नंगे-भूखे घर का बनाया किसने? राज्यसभा सांसद ने दावा किया कि कांग्रेस की पिछली सरकारों के कार्यकाल में गरीब हितैषी योजनाओं की रकम भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ जाती थी, जबकि मौजूदा नरेंद्र मोदी सरकार वित्तीय गड़बड़ियों पर रोक लगाते हुए इस राशि को वास्तविक लाभार्थियों तक पहुंचा रही है। PLC.
 

Comments

CAPTCHA code

Users Comment