Close X
Thursday, June 24th, 2021

दमदार योगी : प्रवासी कामगारों और श्रमिकों के लिए रोजगार की व्यापक कार्ययोजना तैयार

कामगारों एवं श्रमिकों को मनरेगा, एम0एस0एम0ई0, ओ0डी0ओ0पी0, विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना, महिला स्वयं सहायता समूह, डेयरी, खाद्य प्रसंस्करण तथा गौ-आश्रय स्थल से जोड़ते हुए रोजगार का प्रबन्ध किया जाए

प्रदेश में संचालित औद्योगिक इकाइयों तथा इनके माध्यम से लोगों को
उपलब्ध हो रहे रोजगार का विवरण संकलित किया जाए

महिला स्वयं सहायता समूह को मास्क निर्माण के साथ-साथ अचार, मुरब्बा, जैम, पापड़ आदि कार्यों से जोड़ते हुए इन्हें और प्रभावी बनाया जाए

राज्य सरकार करा रही है प्रवासी कामगारों व श्रमिकों की सुरक्षित वापसी
प्रवासी कामगार एवं श्रमिक पैदल यात्रा न करें

प्रदेश वापस लौटने वाले प्रवासी कामगारों एवं श्रमिकों के स्वास्थ्य की जांच कराते हुए स्वस्थ होने की दशा में 14 दिन की होम क्वारंटीन के लिए घर भेजा जाए

घर भेजे जाने वाले कामगारों एवं श्रमिकों को राशन किट एवं निराश्रितों को राशन किट के साथ-साथ 1000 रुपए का भरण पोषण भत्ता भी दिया जाए

विदेश से आने वाले लोगांे की मेडिकल स्क्रीनिंग व क्वारंटीन के लिए सभी
आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित

प्रदेश के समस्त जनपदों में वेंटीलेटर युक्त बेड की व्यवस्था सुनिश्चित

क्वारंटीन सेन्टर एवं कम्युनिटी किचन की संख्या बढ़ाते हुए इनके माध्यम से गुणवत्तापरक भोजन की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए

सभी जनपदों में सेनिटाइजेशन का कार्य निरन्तर जारी रखा जाए

मेडिकल इन्फेक्शन रोकने के सभी उपाय सुनिश्चित करने के साथ भर्ती करने से
पूर्व मरीज की अस्पताल में मेडिकल स्क्रीनिंग की जाए

अस्पतालों में बायो-मेडिकल वेस्ट के निस्तारण के समुचित प्रबन्ध किए जाए

संक्रमण से सुरक्षा के लिए डाॅक्टरों तथा अन्य चिकित्सा कर्मियों के लिए
प्रशिक्षण कार्यक्रम निरन्तर जारी रखे जाए

समस्त चिकित्सालयों पी0पी0ई0 किट, एन-95 मास्क तथा सेनिटाइजर की
सुचारू उपलब्धता सुनिश्चित की जाए
प्रदेश सरकार द्वारा आयुष्मान योजना से आच्छादित अस्पतालों को अनुदानित दर पर की जा रही पी0पी0ई0 किट, एन-95 मास्क तथा सेनिटाइजर आदि की व्यवस्था


लखनऊ के सी0डी0आर0आई0, आई0आई0टी0आर0 एवं बी0एस0आई0पी0
तथा आई0वी0आर0आई0, बरेली में मेडिकल टेस्टिंग के कार्य से
सम्बन्धित सभी संसाधन की उपलब्धता सुनिश्चित रहे

प्रदेश में विभिन्न राज्यों से 43 टेªन लगभग 51,371 हजार प्रवासी कामगारों एवं श्रमिकों को लेकर आ चुकी हैं तथा आज 13 टेªन आने की सम्भावना  

09 मई को शारजहां से 200 यात्रियों को लेकर पहला प्लेन लखनऊ आयेगा

केरल राज्य से पहली ट्रेन पहुंची लखनऊ  

निःशुल्क खाद्यान्न वितरण के द्वितीय चरण में लगभग 2,80,20,451 कार्डो पर
83,87,692 मी0टन खाद्यान्न का निःशुल्क वितरण

लाॅक डाउन अवधि में वाहनों की चेकिंग के दौरान
15,82,21,502 रूपए का शमन शुल्क वसूल

प्रदेश में अब तक लगभग 139.21 लाख कुन्तल गेहूँ की हुई खरीद
-श्री अवनीश कुमार अवस्थी

प्रदेश में कोरोना टेस्टिंग लैब की संख्या बढ़कर 24 हुई

प्रदेश के कोविड अस्पतालों में वेंटीलेटर युक्त बेड की संख्या
बढ़कर लगभग 1300 हुई

प्रदेश में अब तक 1130 लोग उपचारित होकर हुए डिस्चार्ज

प्रदेश में कोरोना के 1868 मामले एक्टिव

कल 459 पूल टेस्ट के माध्यम से 2199 सैम्पल किये गये टेस्ट

 
आई एन वी सी न्यूज़
लखनऊ ,
उत्तर प्रदेश के अपर मुख्य सचिव गृह एवं सूचना अवनीश कुमार अवस्थी ने आज यहां लोक भवन स्थित मीडिया सेल में प्रेस प्रतिनिधियों को सम्बोधित करते हुए बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने प्रवासी कामगारों एवं श्रमिकों के लिए रोजगार की व्यापक कार्ययोजना तैयार करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा है कि कामगारों एवं श्रमिकों को मनरेगा, एम0एस0एम0ई0, ओ0डी0ओ0पी0, विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना, महिला स्वयं सहायता समूह, डेयरी, खाद्य प्रसंस्करण तथा गौ-आश्रय स्थल से जोड़ते हुए रोजगार का प्रबन्ध किया जाए। दुग्ध समितियों तथा पौध नर्सरी के माध्यम से भी प्रवासी कामगारों एवं श्रमिकों को रोजगार उपलब्ध कराने की कार्यवाही की जाए। मुख्यमंत्री जी ने निर्देश दिए हैं कि प्रदेश में संचालित औद्योगिक इकाइयों तथा इनके माध्यम से लोगों को उपलब्ध हो रहे रोजगार का विवरण संकलित किया जाए। महिला स्वयं सहायता समूह को मास्क निर्माण के साथ-साथ अचार, मुरब्बा, जैम, पापड़ आदि कार्यों से जोड़ते हुए इन्हें और प्रभावी बनाया जाए।

श्री अवस्थी ने बताया कि प्रदेश की पर्सनल प्रोटेक्टिव इक्यूपमेन्ट एवं मास्क निर्माण की 72 इकाईयों में से 70 यूनिट क्रियाशील है। इसी प्रकार सेनिटाइजर की 40 नई इकाईयों को आवश्यक स्वीकृति उपरांत कुल 99 इकाईयां क्रियाशील हैं। प्रदेश के मेडिकल इक्यूपमेन्ट एवं दवा निर्माण आदि से संबंधित 412 इकाईयां कार्यरत हैं। प्रदेश में 931 फ्लोर मिल, 431 तेल मिल एवं 269 दाल मिल संचालित की जा रही है।  
श्री अवस्थी ने बताया कि मुख्यमंत्री जी ने अधिकारियों को निर्देशित किया है कि वे यह सुनिश्चित करें कि प्रवासी कामगार एवं श्रमिक पैदल यात्रा कर प्रदेश में न आएं। राज्य सरकार प्रवासी कामगारों व श्रमिकों की सुरक्षित वापसी के लिए कार्य कर रही है। प्रदेश वापस लौटने वाले प्रवासी कामगारों एवं श्रमिकों के स्वास्थ्य की जांच की जाए। इसके लिए प्रत्येक क्वारंटीन सेन्टर में मेडिकल टीम की उपलब्धता सुनिश्चित की जाए। स्वस्थ होने की दशा में 14 दिन की होम क्वारंटीन के लिए कामगारों एवं श्रमिकों को घर भेजा जाए। स्वास्थ्य परीक्षण में अस्वस्थ पाए गए लोगों के उपचार की व्यवस्था की जाए। घर भेजे जाने वाले कामगारों एवं श्रमिकों को राशन किट उपलब्ध कराया जाए। निराश्रितों को राशन किट के साथ-साथ 1000 रुपए का भरण पोषण भत्ता भी दिया जाए। मुख्यमंत्री जी ने विदेश से आने वाले लोगांे की मेडिकल स्क्रीनिंग व क्वारंटीन के लिए सभी आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित करनें के निर्देश दिए। उन्होंने कहा है कि क्वारंटीन सेन्टर की संख्या में वृद्धि की जाए। कम्युनिटी किचन की संख्या बढ़ाते हुए इनके माध्यम से गुणवत्तापरक भोजन की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। उन्होंने निर्देश दिए हैं कि लाॅकडाउन को सख्ती से लागू किया जाए। सोशल डिस्टेंसिंग का कड़ाई से पालन कराया जाए। सभी जनपदों में सेनिटाइजेशन का कार्य निरन्तर जारी रखा जाए।

श्री अवस्थी ने बताया कि मुख्यमंत्री जी ने कहा है कि मेडिकल इन्फेक्शन रोकने के लिए सभी उपाय किए जाएं। भर्ती करने से पूर्व मरीज की अस्पताल में मेडिकल स्क्रीनिंग की जाए। अस्पतालों में बायो-मेडिकल वेस्ट के निस्तारण के समुचित प्रबन्ध किए जाएं। संक्रमण से सुरक्षा के लिए डाॅक्टरों तथा अन्य चिकित्सा कर्मियों के लिए प्रशिक्षण कार्यक्रम निरन्तर जारी रखे जाएं। पुलिस बल को संक्रमण से बचाने के लिए पूरी सतर्कता बरती जाए। समस्त चिकित्सालयों पी0पी0ई0 किट, एन-95 मास्क तथा सेनिटाइजर की सुचारू उपलब्धता सुनिश्चित की जाए। प्रदेश सरकार आयुष्मान योजना से आच्छादित अस्पतालों को अनुदानित दर पर पी0पी0ई0 किट, एन-95 मास्क तथा सेनिटाइजर आदि की व्यवस्था कर रही है। लखनऊ के सी0डी0आर0आई0, आई0आई0टी0आर0 एवं बी0एस0आई0पी0 तथा आई0वी0आर0आई0, बरेली में मेडिकल टेस्टिंग का कार्य प्रारम्भ हो गया है। यह सुनिश्चित किया जाए कि इन संस्थानांें को टेस्टिंग कार्य से सम्बन्धित सभी संसाधन सुचारू रूप से उपलब्ध होते रहें। श्री अवस्थी ने बताया कि प्रदेश के समस्त जनपदों में वेंटीलेटर युक्त बेड की व्यवस्था कर ली गयी है। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश देश का पहला राज्य होगा, जहां इतने बड़े राज्य के सभी जनपदों में वेंटीलेटर की व्यवस्था सुनिश्चित कर ली गयी है।  

श्री अवस्थी ने बताया कि मुख्यमंत्री जी ने कहा है कि मण्डियों में सोशल डिस्टेंसिंग के पालन के साथ-साथ नियमित तौर पर सेनिटाइजेशन कराया जाए। मण्डियों में साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखा जाए और यह भी सुनिश्चित किया जाए कि लोग मास्क तथा ग्लव्स का प्रयोग करें। उन्होंने निर्देश दिए हैं कि प्रत्येक जनपद के मुख्य पशु चिकित्साधिकारी निराश्रित गौ-वंश के लिए स्थापित गौ-आश्रय स्थलों का समय-समय पर निरीक्षण करें।  
श्री अवस्थी ने बताया कि प्रदेश में विभिन्न राज्यों से 43 टेªन लगभग 51,371 प्रवासी कामगारों एवं श्रमिकों को लेकर आ चुकी हैं तथा आज 13 टेªन आने की सम्भावना है। उन्होंने बताया कि विभिन्न राज्यों से 43 और टेªन चलने पर सहमति हो चुकी है। 53 हजार से अधिक लोग आयेगे। केरल राज्य से पहली ट्रेन लखनऊ आ चुकी है। उन्होंने बताया कि विभिन्न राज्यों से लगभग 55 हजार से अधिक प्रवासी श्रमिकों एवं छात्र-छात्राओं का आदान प्रदान रोडवेज बसों द्वारा किया गया है। इसके अतिरिक्त 9 मई को शारजहां से 200 यात्रियों को लेकर पहला प्लेन लखनऊ आयेगा। प्रतिदिन 30 से 40 हजार श्रमिकों को प्रदेश में लाने का प्रयास किया जा रहा है।  

श्री अवस्थी ने बताया कि कोरोना वायरस के दृष्टिगत प्रदेश में लाॅक डाउन अवधि में पुलिस विभाग द्वारा की गयी कार्यवाही में अब तक धारा 188 के तहत 38,561 लोगों के विरूद्ध एफआईआर दर्ज की गई। प्रदेश में अब तक 32,75,329 वाहनांे की सघन चेकिंग में 36,296 वाहन सीज किये गये। चेकिंग अभियान के दौरान 15,82,21,502 रूपए का शमन शुल्क वसूल किया गया। आवश्यक सेवाओं हेतु कुल 2,10,078 वाहनों के परमिट जारी किये गये हैं। उन्होंने बताया कि कालाबाजारी एवं जमाखोरी करने वाले 756 लोगों के खिलाफ 595 एफआईआर दर्ज करते हुए 276 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। उन्होंने बताया कि प्रदेश के 453 हाॅटस्पाॅट क्षेत्र के 287 थानान्तर्गत 8,18,751 मकान चिन्हित किये गये। इनमें 46,56,824 लोगों को चिन्हित किया गया है। इन हाॅटस्पाॅट क्षेत्रों में कोरोना पाॅजिटिव पाये गये लोगों की संख्या 1948 है। हाॅटस्पाॅट क्षेत्रों में 23,241 वाहनों का चालान करते हुए 1515 वाहन जब्त किये गये। उन्होंने बताया कि प्रदेश सरकार फेक न्यूज पर कड़ाई से नजर रख रही है। फेक न्यूज के तहत अब तक 777 मामलों का संज्ञान में लेते हुए साइबर सेल को सूचित किया गया है। अब तक ट्वीटर के 38, फेसबुक के 37, टिकटाॅक के 47 तथा व्हाटसऐप के 01 एकाउण्ट कुल 123 एकाउण्ट्स को ब्लाॅक किया जा चुका है। अभी तक कुल 31 एफआईआर पंजीकृत करायी गयी हैं।

श्री अवस्थी ने बताया कि प्रदेश में स्थापित 5748 क्रय केन्द्र के माध्यम से लगभग 139.21 लाख कुन्तल गेहूँ की खरीद की जा चुकी है। प्रदेश में निःशुल्क खाद्यान्न वितरण के द्वितीय चरण में प्रचलित कुल 3,50,45,249 राशन कार्डो के सापेक्ष मई माह में लगभग 2,80,20,451 कार्डो पर 83,87,692 मी0टन खाद्यान्न का निःशुल्क वितरण किया गया है। प्रदेश में 793 सरकारी तथा 946 स्वैच्छिक कम्यूनिटी किचन के माध्यम से 10,43,652 लोगों को फूड पैकेट्स वितरित किये गये हैं। डोर-स्टेप-डिलीवरी व्यवस्था के अन्तर्गत 24,144 किराना स्टोर क्रियाशील हैं, जिनके माध्यम से 52,716 डिलीवरी मैन आवश्यक सामग्री निरंतर पहुंचा रहे हैं। फल एवं सब्जी वितरण व्यवस्था के अन्तर्गत कुल 45,005 वाहनों की व्यवस्था की गयी है। इसी क्रम में कुल 54.93 लाख लीटर दूध उपार्जन के सापेक्ष 34.68 लाख लीटर दूध का वितरण 21,468 डिलीवरी वैन के माध्यम से किया गया है।  
श्री अवस्थी ने बताया कि उत्तर प्रदेश भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड की श्रमिक भरण-पोषण योजना के तहत निर्माण कार्यों से जुड़े, नगरीय एवं ग्रामीण क्षेत्र के लगभग
30.82 लाख श्रमिकों एवं निराश्रित व्यक्तियों को भी एक-एक हजार रूपए की धनराशि का भुगतान किया जा चुका है।  

श्री अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि प्रदेश के 59 जनपदों में 1868 मामले एक्टिव हैं। उन्होंने बताया कि अब तक 1130 मरीज पूरी तरह से उपचारित हो चुके हैं। अब तक प्रदेश के 67 जिलों से 3,059 कोरोना पाॅजिटिव के मामले सामने आए हैं। उन्होंने बताया कि कल 459 पूल टेस्ट के माध्यम से 2199 सैम्पल टेस्ट किये गये, जिनमें 28 पूल पाॅजिटिव पाये गये। 1929 लोगों को आइसोलेशन वार्ड में रखा गया है तथा 10,797 लोगों को फैसिलिटी क्वारेंटाइन में रखा गया है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में कोरोना टेस्टिंग लैब की संख्या बढ़कर 24 एवं कोविड अस्पतालों में वेंटीलेटर युक्त बेड की संख्या लगभग 1300 हो गयी है। उन्होंने बताया कि निजी एवं सरकारी लैब में की गई जांचों को मिलाकर प्रदेश में अब तक 1,10,534 कोरोना के टेस्ट किये जा चुके हैं।  

Comments

CAPTCHA code

Users Comment