Wednesday, June 3rd, 2020

दमदार योगी : 11वें दिन लॉकडाउन तोड़ने पर 8367 FIR, 4.18 करोड़ रुपये का वसूला गया जुर्माना

लखनऊ. कोरोनावायरस (Coronavirus) महामारी को देखते हुए पूरे देश में लॉकडाउन (Lockdown) लागू कर दिया गया है, जिसकी वजह से लोगों को सड़कों पर आने की इजाज़त नहीं है. किसी मेडिकल इमरजेंसी के हालात में ही सड़कों पर आ सकते हैं. बावजूद इसके उत्तर प्रदेश में कई जगहों पर लॉकडाउन तोड़ने के मामले सामने आए हैं. ऐसे मामलों में संपूर्ण लॉकडाउन के 11वें दिन शनिवार को यूपी में 8367 एफआईआर (FIR) दर्ज की गईं.

कालाबाजारी करने के मामलों में 131 एफआईआर

वहीं लॉकडाउन का फायदा उठाकर जमाखोरी और कालाबाजारी करने के मामलों में 131 एफआईआर भी दर्ज की गई हैं. लॉकडाउन तोड़ने वाले वाहनों से 4.18 करोड़ रुपये का जुर्माना वसूला गया. इससे पहले प्रदेश में 5301 बैरियर लगाकर 10.10 लाख वाहनों की चेकिंग कर 2.13 लाख वाहनों के चालान हुए और 15549 वाहन सीज़ किए गए. एडीजी एलओ पीवी रामाशास्त्री के मुताबिक सभी जिलों के कप्तानों को लॉकडाउन तोड़ने पर कार्रवाई करने के आदेश दिए गए हैं. इसके साथ ही कालाबाजारी करने वालों और जमाखोरों के खिलाफ भी सख़्त कार्रवाई के निर्देश दिए गए हैं.


बता दें उत्तर प्रदेश में शनिवार को कोरोना वायरस संक्रमित मरीजों में जबरदस्त इजाफा देखने को मिला. शनिवार को 75 नए मरीज कोरोनावायरस से संक्रमित पाए गए. इसमें 54 लोग वे हैं, जिन्होंने दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज में हुए तबलीगी जमात शामिल हुए थे. अब तक प्रदेश के 30 जिलों में कुल 258 लोगों में कोरोनावायरस की पुष्टि हो चुकी है.

कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की सर्वाधिक संख्या पश्चिम यूपी से है. यहां कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या 135 पहुंच गई है. अभी तक सर्वाधिक 58 मरीज नोएडा में मिले हैं. वहीं, 268 संदिग्ध मरीजों को विभिन्न अस्पतालों में भर्ती किया गया. जबकि दो और मरीजों को छुट्टी दे दी गई. अब तक स्वस्थ हो चुके मरीजों की संख्या भी बढ़कर 21 हो गई है. प्रमुख सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि बीते दो दिनों में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या में तेजी से हुए इजाफे के पीछे तबलीगी जमात में शामिल लोग मुख्य कारण हैं. यूपी में अब कोरोना वायरस का संक्रमण कुल 30 जिलों तक फैल गया है.PLC.

Comments

CAPTCHA code

Users Comment