Close X
Thursday, December 9th, 2021

त्रिवेंदर सिंह रावत ने की सभी कार्यो की समीक्षा

आई एन वी सी न्यूज़

देहरादून, मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने सोमवार को हरिद्वार के मेला नियंत्रण भवन सभागार में जनपद हरिद्वार के विकास कार्यो की विभागवार समीक्षा बैठक ली। बैठक में नेशनल हाइवे के कार्यो की समीक्षा करते हुए मुख्यमंत्री श्री त्रिवेंद्र ने क्षतिग्रस्त कोटावाली पुल को नई तकनीकी के प्रयोग के साथ काम करते हुए जल्द से जल्द तैयार कर आवाजाही हेतु सुचारू करने के निर्देश दिये। मुख्यमंत्री ने आवंटित बजट के अनुरूप सभी नये कार्यो को सुचारू करने की भी बात कही। मुख्यमंत्री ने पेयजल विभाग द्वारा चिन्ह्ति स्थानों में लगाये गये हैण्ड पम्पों की स्थिति एवं हैण्ड पम्पों में पानी की गुणवत्ता पर ध्यान रखने के निर्देश दिये। मुख्यमंत्री ने पेयजल विभाग द्वारा लगाये गये ट्यूबवैल कनेक्शनों की स्थिति पर गहरी नाराजगी जतायी। उन्होंने कहा कि करोडों की लागत से बनाये गये सिंचाई ट्यूबवैल को किसी भी स्थिति में बंद पड़ा न छोड़ा जाए। उन्होंने ट्यूबवैल्स के बंद पड़ने के कारणों की जांच, मुख्य विकास अधिकारी को सौंपते हुए निर्धारित समय में रिपोर्ट देने के लिए कहा। मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने नमामी गंगे योजना के अंतर्गत किये जाने वाले एसटीपी कार्यो की समीक्षा करते हुए कहा कि सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट्स हेतु आधुनिकतम तकनीकों का इस्तेमाल किया जाए। उन्होंने स्वजल द्वारा गांवों में नालियों, बायो गैस एवं वर्मी कम्पोस्ट बनाने के कार्यों की समीक्षा करते हुए वर्मी कम्पोस्ट बनाने के लिए सीवांस तकनीक का प्रयोग कर खाद तैयार करने की बात कही। वन विभाग की समीक्षा के दौरान मुख्यमंत्री ने वनों में चोरी तथा अवैध शिकार की स्थिति की जानकारी लेते हुए वनों के जीर्णोद्धार व वन सम्पदा के संरक्षण पर जोर देते हुए कार्य करने के निर्देश दिये। मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने जनपद में चिकित्सकों की कमी को देखते हुए रोस्टरवार विशेषज्ञ चिकित्सकों का पैनल बनाकर शिविर लगाने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि मोबाइल चिकित्सालय के माध्यम से भी स्थानीय लोगों को स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध करायी जाए। उन्होंने जिलाधिकारी एवं मुख्य चिकित्सा अधिकारी को जनपद में शिशु लिंगानुपात पर प्रभावी रूप से कार्य करने के निर्देश दिये। कृषि विभाग की समीक्षा के दौरान सीडीओ ने बताया कि 120 हेक्टेयर कृषि भूमि के लिए 10 क्लस्टर बनाकर एक एकीकृत योजना तैयार की गयी है जिसका लाभ किसानों को मिलेगा। पोस्ट हार्वेस्ट में होने वाले किसानों के नुकसान को कम करने के लिए मिनी सोया और राइस मशीनें वितरित की जायेगी। इस अवसर पर शहरी विकास मंत्री श्री मदन कौशिक, विधायक सुरेश राठौर, जिलाधिकारी श्री दीपक रावत, मुख्य विकास अधिकारी सुश्री स्वाती भदौरिया, मुख्य नगर अधिकारी श्री नितिन भदौरिया सहित जिले के जनपद स्तरीय सभी अधिकारी अपने विभागों की प्रगति रिपोर्ट के साथ उपस्थित हुए।

Comments

CAPTCHA code

Users Comment