Close X
Tuesday, March 2nd, 2021

तो बड़े कारपोरेट घरानों की ‘कृपा' पर रहना पड़ेगा

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा है कि केंद्र सरकार को ‘रोज नए जुमले' बंद कर ‘कृषि विरोधी कानूनों' को रद्द करना चाहिए। उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘ रोज़ नए जुमले और ज़ुल्म बंद करो, सीधे-सीधे कृषि-विरोधी क़ानून रद्द करो।'' ज्ञात रहे कि हजारों की संख्या में किसान दिल्ली की सीमाओं पर पिछले करीब दो महीने से प्रदर्शन कर रहे हैं। केंद्र सरकार के खिलाफ आंदोलन कर रहे किसान, नये कृषि कानूनों को रद्द करने की मांग कर रहे हैं। प्रदर्शनकारी किसानों का आरोप है कि इन कानूनों से मंडी व्यवस्था और न्यूनतम समर्थन मूल्य पर खरीद की प्रणाली समाप्त हो जाएगी और किसानों को बड़े कारपोरेट घरानों की ‘कृपा' पर रहना पड़ेगा। हालांकि, सरकार इन आशंकाओं को खारिज कर चुकी है। किसान आंदोलन को समाप्त करने के एक प्रयास के तहत केंद्र सरकार ने बुधवार को आंदोलनकारी किसान संगठनों के समक्ष इन कानूनों को एक से डेढ़ साल तक निलंबित रखने और समाधान का रास्ता निकालने के लिए एक समिति के गठन का प्रस्ताव रखा है। किसानों ने इस प्रस्ताव को ठुकरा दिया है। PLC.

 

Comments

CAPTCHA code

Users Comment