आई एन वी सी न्यूज़
देहरादून,
गुरूवार को मुख्यमंत्री आवास में बड़ी संख्या में आयी मुस्लिम महिलाओं ने मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत से भेंट की। उन्होंने तीन तलाक बिल पास होने पर प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी का आभार जताया।

मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने तीन तलाक बिल को मुस्लिम महिलाओं के हित में लिया गया महत्वपूर्ण कदम बताते हुए सभी को बधाई दी। मुख्यमंत्री ने इसके लिए प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी का विशेष आभार जताया जिन्होंने राज्य सभा में बहुमत में न होते हुए भी इस सामाजिक विसंगति की प्रथा का उन्मूलन किया। उन्होंने कहा कि तीन तलाक बिल पास होने से नये युग की शुरूआत हुई है, इससे देश की मुस्लिम बहनों को आजादी मिली है।

उन्होंने कहा कि भारत का संविधान जो सबको अधिकार देता है अब इस कानून का उपयोग कर मुस्लिम बहने अपने अधिकारों का उपयोग कर सकेंगे। उन्होंने कहा कि तीन तलाक के विरूद्ध उत्तराखण्ड जैसे राज्य की दो बेटियां भी आगे आयी जो इस लड़ाई को सुप्रीप कोर्ट तक ले गई। उन्होंने इसके लिए विशेष कर काशीपुर की सायरा बानो द्वारा किये गये संघर्ष की भी सराहना की।  


उन्होंने कहा कि यह समाज में मुस्लिम महिलाओं को समानता प्रदान करने वाला ऐतिहासिक कदम है। यह देश की मुस्लिम महिलाओं को ही नहीं बल्कि सभी महिलाओं को जीने की आजादी के साथ ही उनके मनोबल को बढ़ावा देने का भी प्रयास है।

मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने केन्द्र सरकार के इस महत्वपूर्ण कदम को सामाजिक विसंगति को मिटाने व सामाजिक समरसता को बढ़ावा देने वाला भी बताया है। उन्होंने कहा कि इससे महिलाओं में आत्मसम्मान एवं आत्मविश्वास की भावना का भी विकास होगा।

इस अवसर पर सायरा बानो ने कहा कि तीन तलाक बिल पास होने के बाद बनने वाले कानून से समाज में महिलाओं को उनका वाजिब अधिकार प्राप्त होगा तथा वे सामाजिक उत्पीड़न से भी बच सकेंगे। उन्होंने सामाजिक सुधारों के लिए मुस्लिम महिलाओं को भी आगे आने को कहा।

इस अवसर पर विधायक श्री सुरेश राठौर, उत्तराखण्ड हज समिति के अध्यक्ष शमीम आलम एवं बड़ी संख्या में मुस्लिम महिलाएं उपस्थित थी।