Sunday, December 15th, 2019

डिजिटल कम्युनिकेशन का क्षेत्र बहुत व्यापक

digital communicationआई एन वी सी,
भोपाल, राज्यपाल श्री राम नरेश यादव ने यहाँ भाभा इंजीनियरिंग रिसर्च इंस्टीटयूट द्वारा आयोजित दो दिवसीय राष्ट्रीय कांफ्रेंस का शुभारम्भ करते हुए कहा कि कम्प्यूटर और डिजिटल कम्युनिकेशन का क्षेत्र बहुत व्यापक है। छात्र-छात्राओं को रोजगार उपलब्ध करवाने की दृष्टि से यह क्षेत्र महत्वपूर्ण है। राज्यपाल ने कहा कि छात्र-छात्राओं को विकास के लिए संसाधन उपलब्ध करवाने की आवश्यकता है। इस अवसर पर मैनिट के डायरेक्टर श्री के.के.अप्पुकुट्टन, आर.के.डी.एफ. यूनिवर्सिटी की चान्सलर डॉ. साधना कपूर, सत्य सांई विश्वविद्यालय के चान्सलर श्री सिद्धार्थ कपूर और कुलपति आर.के.डी.एफ. ग्रुप श्री हरमोहन सिंह उपस्थित थे। राज्यपाल श्री यादव ने स्मारिका का विमोचन भी किया।
राज्यपाल श्री यादव ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय श्री राजीव गाँधी द्वारा देश में शुरू की गई सूचना प्रौद्योगिकी क्रांति का संचार युवा और छात्र-छात्राओं के लिए वरदान सिद्ध हुआ है। डिजिटल कम्युनिकेशन भविष्य की तकनीक की आवश्यकताओं को पूर्ण करने के लिए महत्वपूर्ण विषय है। इस क्षेत्र में छात्र-छात्राएँ काम करेंगे तो उनका भविष्य उज्जवल होगा और प्रदेश का विकास हो सकेगा। श्री यादव ने छात्र-छात्राओं से कहा कि उनको मिलने वाले हर अवसर का भरपूर लाभ उठायें और प्रतिभाशाली लोगों से मंच साझा कर ज्ञान अर्जित कर आगे बढ़ने का प्रयास करें। उन्होंने छात्र-छात्राओं से शिक्षा प्राप्ति के बाद कुछ समय देश में रहकर सेवा करने की अपील की। मैनिट के डायरेक्टर डॉ.के.के. अप्पुकुट्टन ने कहा कि क्लाउड कम्प्यूटिंग और डिजिटल कम्युनिकेशन का उपयोग द्वितीय विश्व युद्ध के साथ तेजी से हुआ है। व्यापार,बैंकिंग,मैनेजमेंट और अन्य क्षेत्रों में यह बहुत उपयोगी है। उन्होंने कहा कि भारत सरकार ने छात्र-छात्राओं को इस क्षेत्र में विकास के लिए संसाधन उपलब्ध करवाने के प्रयास किये हैं। डा. अप्पुकुट्टन ने क्लाउड कम्प्यूटिंग और डिजिटल कम्युनिकेशन विषय पर विस्तार से प्रकाश डाला। आर.के.डी.एफ. यूनिवर्सिटी की चान्सलर डॉ. साधना कपूर और कुलपति श्री हरमोहन सिंह ने स्वागत भाषण दिया। राज्यपाल श्री यादव ने दीप जला कर समारोह का शुभारम्भ किया। इस मौके पर राज्यपाल का शॉल, श्रीफल और स्मृति-चिन्ह भेंट कर सम्मान किया गया।

Comments

CAPTCHA code

Users Comment