Tuesday, February 25th, 2020

डा. सुधीर कुमार बने राष्ट्रीय संस्कृत परिषद के सदस्य

Dr. M.M. Pallam Rajuआई,एन,वी,सी ,,

चण्डीगढ़,

हरियाणा संस्कृत अकादमी के निदेशक डा. सुधीर कुमार को राष्ट्रीय संस्कृत की संचालन समिति ‘राष्ट्रीय संस्कृत परिषद’ का सदस्य मनोनित किया गया है। केन्द्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री श्री एमएम पालम राजू की अध्यक्षता में इस परिषद का पुर्नगठन किया गया है। इस संबंध में जानकारी देते हुए अकादमी के प्रवक्ता ने बताया कि नई कार्यकारिणी की पहली बैठक 22 जनवरी को नई दिल्ली में होगी जिसमें वे अपना पदभार ग्रहण करेंगे और उनका कार्यकाल तीन वर्ष का होगा। उन्होंने बताया कि डा. सुधीर ने संस्कृत साहित्य के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य किए हैं। अकादमी में पदभार संभालने के लिए बाद उन्होंने हरियाणा में संस्कृत गुरूकुलों, विद्यालयों, महाविद्यालयों व विश्वविद्यालयों में विभिन्न विचार गोष्ठियों, कार्यशालाओं, कवि सम्मेलनों, साहित्यिक समारोह व संस्कृत प्रतियोगिताओं के माध्यम से संस्कृत भाषा के प्रचार प्रसार के लिए अभूतपूर्व कार्य किया है। उन्होंने बताया कि डा. सुधीर को दिल्ली संस्कृत अकादमी, दिल्ली सरकार की ओर से ‘संस्कृत सेवा सम्मान’ व पं. जगदीश चंद्र शास्त्री स्मृति न्यास की ओर से ‘उत्कृष्ट संस्कृत सेवी सम्मान’ भी प्राप्त हो चुके हैं। उन्होंने संस्कृत भाषा को सबसे वैज्ञानिक भाषा कहा है। दूसरी भाषाओं के साथ-साथ संस्कृत भाषा को पढना इसलिए आवश्यक है कि यह भारतीय संस्कारों को जिंदा रखती है।

Comments

CAPTCHA code

Users Comment