Close X
Saturday, February 27th, 2021

टीकाकरण में और आगे बढ़ा रूस   

मास्को। कोरोना वायरस के कहर के बीच रूस ने ऐलान किया कि वह कोरोना रोधी टीकाकरण अभियान में अपनी तीसरी वैक्सीन को भी शामिल करेगा। रूस के प्रधानमंत्री मिखाइल मिशुस्टिन ने टेलीविजन के जरिये बताया कि तीसरे टीके का नाम कोविवैक है। प्रधानमंत्री ने कहा कि रूस कोरोना रोधी टीकाकरण में अपने तीन टीके इस्तेमाल करने वाला दुनिया का पहला देश होगा। रूस ने कहा कि मार्च से तीसरे टीके को भी देशवासियों को लगाया जाएगा। कोविवैक का उत्पादन चुमाकोव स्थित सरकारी कंपनी कर रही है।

 
  हालांकि इस वैक्सीन के अंतिम चरण का क्लिनिकल परीक्षण मार्च में 3000 लोगों पर किया जाएगा। इसे 60 साल से कम उम्र के लोगों को देने की सिफारिश की गई है। गौरतलब है कि रूस पिछले साल अगस्त में टीका बनाने का ऐलान करने वाला पहला देश बन गया था। उसने क्लिनिकल परीक्षण के पूरा होने से पहले ही स्पुतनिक-वी वैक्सीन को लोगों को लगाने की मंजूरी दे दी थी। इसके बाद से स्पुतनिक-वी टीके के इस्तेमाल को दो दर्जन से अधिक देश मंजूरी दे चुके हैं। राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने गत अक्तूबर में ऐलान किया था कि रूस ने अपने दूसरे टीके एपिवैककोरोना के इस्तेमाल की अनुमति दे दी है। प्रधानमंत्री ने बातया कि रूस अब तक स्पुतनिक-वी की एक करोड़ खुराक और एपिवैककोरोना की 80 हजार खुराक बना चुका है। PLC.

Comments

CAPTCHA code

Users Comment