Close X
Friday, September 17th, 2021

टीकाकरण के बाद भी करें कोविड प्रोटोकॉल का पालन

आई एन वी सी न्यूज़
लखनऊ,
अपर मुख्य सचिव ‘सूचना’ श्री नवनीत सहगल ने बताया कि मुख्यमंत्री जी के 3टी ट्रेस, टेस्ट और ट्रीट अभियान के अभिनव प्रयास से प्रदेश में कोरोना संक्रमण नियंत्रित है। अन्य प्रदेशों में कोविड के केस बढ़ रहे है। उन्होंने बताया कि 3टी के कारण ही 30 अप्रैल, 2021 के एक्टिव मामले 3,10,783 से घटकर मात्र 181 हो गये है तथा 30 अप्रैल के प्रतिदिन कोविड केस 38 हजार से घटकर 33 हो गये है। सर्विलांस के माध्यम से सरकारी मशीनरी द्वारा उत्तर प्रदेश की 24 करोड़ की जनसंख्या में से अब तक लगभग 17.24 करोड़ से अधिक लोगों से उनका हालचाल जाना गया है। लक्षणयुक्त व्यक्तियों का टेस्ट कराकर संक्रमण होने पर लगभग 16 लाख से अधिक निःशुल्क मेडिकल किट भी बांटी गयी है।

श्री सहगल ने बताया कि प्रदेश में सक्रिय मामले कम होने पर भी कोविड-19 के टेस्ट करने की संख्या घटाई नहीं जा रही हैं। कोविड संक्रमण की चेन को तोड़ने के लिए समय से पहचान व इलाज जरूरी है। कल एक दिन में 1,91,446 कोविड टेस्ट किये गये है, अब तक 7,53,18,532 कोविड टेस्ट किये गये है जो कि देश में सर्वाधिक है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में सर्विलांस, टेस्टिंग एवं टीकाकरण का कार्य वृहद स्तर पर किया जा रहा है। प्रदेश में कल 17,19,279 कोविड-19 की डोज दी गयी है। पहली डोज 7,36,69,266 तथा दूसरी डोज 1,49,69,809 तथा कुल 8,86,39,075 डोजें लगायी गयी हैं, जोकि देश में सर्वाधिक है। उन्होंने बताया कि शीघ्र ही कोविड-19 डोज का आकड़ा 09 करोड़ से अधिक पार कर लिया जायेगा। उत्तर प्रदेश देश में 09 करोड़ से अधिक कोविड-19 की डोज देने वाला पहला प्रदेश होगा।

श्री सहगल ने बताया कि कोविड-19 से बचाव हेतु प्रदेश मंे 6500 से अधिक पीकू/नीकू बेड तैयार कर लिये गये है तथा 17 हजार से अधिक डॉक्टरों/नर्सों को प्रशिक्षण दिया जा चुका है। उन्होंने बताया कि प्रदेश मे 555 ऑक्सीजन प्लांट स्वीकृत किये गये है जिसमें से लगभग 400 से अधिक ऑक्सीजन प्लांट संचालित हो गये है। उन्होंने बताया कि कोविड संक्रमण अभी पूरी तरह समाप्त नहीं हुआ है। इसलिए सभी लोग कोविड अनुरूप आचरण करे। टीकाकरण के बाद भी कोविड प्रोटोकॉल का पालन अवश्य करें।

श्री सहगल ने बताया कि मुख्यमंत्री जी के निर्देश पर बरसात के मौसम को देखते हुए डेंगू, मलेरिया व अन्य वायरल बीमारियों के लक्षणयुक्त मरीजों की पहचान के लिए प्रदेशव्यापी सर्विलांस अभियान चलाया जा रहा है। इस अभियान के अन्तर्गत बरसात के बाद मच्छरजनित और जलजनित रोग से बचने के लिए साफ-सफाई का विशेष ध्यान दिया जा रहा है। इस अभियान को संचालित करने हेतु वरिष्ठ नोडल अधिकारियों को जनपदों में भेजा गया है। डेंगू व अन्य वायरल रोगों का इलाज सरकारी अस्पतालों में निशुल्क किया जा रहा है। जांच सुविधा स्थानीय स्तर पर उपलब्ध करायी जा रही है।

श्री सहगल ने बताया कि आज 14 सितम्बर, 2021 प्रधानमंत्री जी द्वारा जनपद अलीगढ़ में प्रस्तावित डिफेंस इण्डस्ट्रियल कॉरिडोर के प्रदर्शनी मॉडल्स के अवलोकन एवं राजा महेन्द्र प्रताप सिंह राज्य विश्वविद्यालय के शिलान्यास किया। जिसमें मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने प्रतिभाग किया। एमएसएमई सेक्टर के अलीगढ़ नोड से जुड़ने पर रोजगार के नये अवसर उपलब्ध होंगे। राजा महेन्द्र प्रताप सिंह राज्य विश्वविद्यालय के क्षेत्राधिकार में अलीगढ़ मण्डल के चारों जनपद अलीगढ़, कासगंज, हाथरस एवं एटा के 395 कालेज सम्बद्ध होंगे। विश्वविद्यालय की स्थापना से अलीगढ़ मण्डल के छात्र-छात्राओं को उच्च स्तरीय शैक्षणिक सुविधाएं प्राप्त होंगी।

Comments

CAPTCHA code

Users Comment