Wednesday, November 13th, 2019
Close X

टीएमसी सरकार का वक्त खत्म

कोलकाता बीजेपी के कार्यकारी अध्यक्ष जे पी नड्डा ने शनिवार को पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर हमला बोलते हुए कहा कि उन्होंने जंगल राज की शुरुआत की है और प्रदेश में आतंक का राज कायम कर दिया है। नड्डा ने कहा कि राज्य में तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) सरकार का वक्त खत्म हो गया है क्योंकि बनर्जी में दूरदृष्टि और दिशा की कमी है और उनकी रुचि केवल राज्य के आतंक के जरिए विपक्षी दलों को भयभीत करने में है।

नड्डा ने पश्चिम बंगाल में पिछले कुछ वर्षों में राजनीतिक हिंसा में जान गंवाने वाले बीजेपी कार्यकर्ताओं का ‘सामूहिक तर्पण’ भी किया। ‘तर्पण’ पितृ पक्ष में की जाने वाली एक ऐसी रस्म है जिसमें पूर्वजों की आत्मा की शांति के लिए उन्हें जल अर्पित किया जाता है। उन्होंने दावा किया कि पश्चिम बंगाल में मारे गए बीजेपी कार्यकर्ताओं के परिवार के सदस्यों को न्याय नहीं मिल रहा है। उन्होंने सामूहिक तर्पण करने के बाद पत्रकारों से कहा, ‘पश्चिम बंगाल में टीएमसी सरकार में जंगल राज और आतंक का राज है। कानून का शासन न होने के कारण यहां गुंडा राज कायम है।’

नड्डा ने आगे कहा, ‘लेकिन यह जंगल राज जल्द ही खत्म हो जाएगा क्योंकि टीएमसी सरकार का समय खत्म हो गया है।’ उन्होंने कहा कि बनर्जी पश्चिम बंगाल में तेजी से अपना राजनीतिक आधार खो रही हैं। मुख्यमंत्री होने के नाते उनके पास कोई दूरदृष्टि नहीं है। उन्होंने कहा कि पिछले दो साल के दौरान पश्चिम बंगाल में राजनीतिक हिंसा में 80 से अधिक लोगों को जान गंवानी पड़ी है। उन्होंने कहा, ‘पुलिस मुकदमा नहीं लिख रही है और मूकदर्शक बनी हुई है। रक्षक ही भक्षक बन गए हैं। ममता बनर्जी न तो लोगों को न्याय दे रही हैं और न ही कोई समुचित न्यायिक कार्रवाई होने दे रही हैं।’

'बीजेपी के 2500 से ज्यादा कार्यकर्ताओं पर हुआ हमला'
उन्होंने कहा, ‘पश्चिम बंगाल में 2018 के पंचायत चुनाव के बाद 3000 से अधिक बीजेपी कार्यकर्ताओं को अपने घर छोड़ने के लिए मजबूर किया गया। बीजेपी के 2500 से अधिक कार्यकर्ताओं के साथ शारीरिक हिंसा की गई। करीब 80 लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी और करीब 1000 घायल कार्यकर्ताओं का इलाज कराया जा रहा है। ये कानून-व्यवस्था की स्थिति या गुंडाराज का उदाहरण है।’ इससे पहले नड्डा ने कॉलेज स्क्वेयर में समाज सुधारक ईश्वर चन्द्र विद्यासागर को श्रद्धांजलि दी। PLC



 

Comments

CAPTCHA code

Users Comment