राजेंद्र चौधरी आई एन वी सी न्यूज़आई एन वी सी न्यूज़

लखनऊ,
समाजवादी पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता श्री राजेन्द्र चौधरी ने कहा है कि अब यह बात दिन के उजाले की तरह साफ होती जा रही है कि भाजपा झूठ के सहारे अपनी राजनीति चलाती है। पिछले दिनों अफवाहें फैलाकर उसने देश-प्रदेश में अशांति और अराजकता फैलाने का काम किया था। उसकी अफवाहबाजी का शिकार दादरी में एक मुस्लिम परिवार हुआ। कई जगह और भी हालात बिगाड़ने की नापाक कोशिश हुई। समाजवादी सरकार और मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव ने सांप्रदायिक ताकतों को शिकस्त देने के लिए कड़ी प्रशासनिक कार्यवाही के आदेश दिये, जिसके फलस्वरुप उनकी प्रदेश में अशांति फैलाने की साजिशें सफल नही हो सकी।
अब तो यह बात प्रकाश में आ चुकी है कि भारतीय जनता पार्टी मीट निर्यातक कंपनियों से वर्ष 2013-2014 में 250 करोड़ रुपये का दान स्वीकार कर चुकी है। मुजफ्फरनगर कांड में संलिप्त एक भाजपा नेता भी एक निर्यातक कंपनी से जुड़े थे। स्मरणीय है कि बिहार चुनाव में भी ‘बीफ‘ एक मुद्दा बना था और सांप्रदायिक जहर फैलाने की साजिश हुई थी। भाजपा की गोभक्ति की इस दोहरे आचरण से कलई खुल गई है। भाजपा की कथनी और करनी में जहाँ इतना अंतर दिखाई देता है वही उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव और समाजवादी सरकार ने गोवंश की रक्षा की दिशा में प्रभावी कदम उठांए हैं। मुख्यमंत्री जी स्वयं गोपालक है।
उत्तर प्रदेश में सबसे ज्यादा दुग्ध उत्पादन होता है। यह पूरे देश में पहले स्थान पर है। राज्य सरकार ने डेयरी उद्योग को बढ़ावा दिया है। राज्य के हर मण्डल में 100 करोड़ रुपये की लागत से डेयरी प्लांट स्थापित करने का काम जनवरी माह तक पूरा कर लिया जायेगा। कामधेनु योजना हेतु वर्श 2015-16 के बजट में 50 करोड़ रुपये रखे गये है।
ग्रामीण क्षेत्रों में दुग्ध विकास कार्यक्रमों हेतु अवस्थापना सुविधा योजनान्तर्गत बल्क मिल्क कूलर एवं ऑटोमैटिक मिल्क कनेक्शन यूनिटों की स्थापना की जा रही है। वित्तीय वर्ष 2015-16 में बजट में इसके लिए लगभग 03 करोड़ रुपये रखे गये हैं। प्रदेश में पशुपालन की विकास दर 12 से 15 प्रतिशत है। समाजवादी सरकार ने 07 बन्द सहकारी दुग्ध संघों यथा मथुरा, आगरा, अलीगढ़, सहारनपुर, बरेली, फिरोजाबाद एवं फतेहपुर को पुनः संचालित कराने का भी काम किया है।
इसमें दो राय नही है कि जहाँ भाजपा आर0एस0एस0 गोवंश के प्रति दिखावटी प्रेम जताते हैं और मांस निर्यातकों से निस्संकोच चंदा वसूली करते हैं वहीं समाजवादी सरकार यह मानती है कि प्रदेश के विकास में गोवंश की अति महत्वपूर्ण भ्ूमिका है। भाजपा समाज को बाँटने के लिए गाय का नाम लेती है। केन्द्र सरकार के पास भी गाय को बचाने तथा संरक्षण देने की नीति या योजना नही है। मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव प्रदेश में पशुपालन और दुग्ध उत्पादन में वृद्धि के लिए सचेत हैं और प्रदेश में दूध-दही की धारा बहाना चाहते हैं। समाजवादी गाय को उचित महत्व देते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here