Monday, April 6th, 2020

जियो बनी दूसरी सबसे बड़ी टेलिकॉम कंपनी

मुकेश अंबानी की टेलिकॉम कंपनी रिलायंस जियो ने लॉन्चिंग के ढाई साल बाद ही एक और बड़ा मुकाम हासिल कर लिया है। यूजर बेस के मामले में भारती एयरटेल को पीछे छोड़कर जियो देश की दूसरी सबसे बड़ी टेलिकॉम कंपनी बन गई है। 30.6 करोड़ यूजर्स वाली जियो से आगे अब बस वोडाफोन-आइडिया ही है। एयरटेल के पास 28.4 करोड़ सब्सक्राइबर्स हैं, जबकि वोडाफोन-आइडिया ने दिसंबर 2018 में 38.7 करोड़ सब्सक्राइबर्स की घोषणा की थी। एयरटेल के प्रवक्ता ने टाइम्स ऑफ इंडिया की ओर से पूछे गए सवाल के जवाब में ग्राहकों की संख्या की पुष्टि की है।
'जल्द ही वोडाफोन-आइडिया भी पीछे' टेलिकॉम इंडस्ट्री के एक विश्लेषक ने कहा कि जियो जल्द ही वोडाफोन-आइडिया से भी आगे निकल सकती है। उन्होंने कहा, 'बस कुछ ही तिमाही की बात है, वोडाफोन-आइडिया पीछे छूट जाएगी। तीन या चार तिमाही में जियो वोडाफोन-आइडिया से आगे निकल सकती है।' 2 दशक तक रहा एयरटेल का कब्जा भारतीय टेलिकॉम सेक्टर में 2 दशक तक बढ़त बनाए रखने वाली एयरटेल के लिए गिरावट बहुत नाटकीय है। पिछले साल के मध्य तक एयरटेल ही देश की नंबर-1 टेलिकॉम कंपनी थी। वोडाफोन-आइडिया सेल्युलर के विलय के बाद अस्तित्व में आई नई कंपनी ने इसका स्थान छीन लिया। सस्ते टैरिफ से ग्रोथ रिलायंस जियो की तेज वृद्धि आक्रामक और बेहद सस्ते टैरिफ प्लान्स के दम पर हुई है। 2016 में लॉन्चिंग के साथ ही कंपनी ने बेहद कम कीमत पर टैरिफ प्लान्स दिए और वॉइस कॉल की सेवा मुफ्त कर दी। कंसल्टेंसी फर्म FinXPros के सीईओ मोहन शुक्ला ने कहा, 'जियो की वृद्धि अभूतपूर्व है और कंपनी नए टैरिफ प्लान्स, कॉन्टेंट पैकेज की मदद से ग्राहक अधिग्रहण में बढ़त बनाए रख सकती है।' तेजी से बढ़ रहे जियो के ग्राहक एक तरफ वोडाफोन-आइडिया कम पैसे देने वाले ग्राहकों की छंटाई करने में जुटी है तो जियो बेहद तेज रफ्तार से नए ग्राहकों को जोड़ रही है। जेपी मॉर्गन की एक रिपोर्ट के मुताबिक, जियो ने जनवरी-मार्च 2019 में 2.7 करोड़ नए ग्राहक जुटाए। जियो ही मुनाफे में जियो की एंट्री के बाद टेलिकॉम कंपनियों की आर्थिक स्थिति भी पूरी तरह बदल गई है। प्राइस वॉर की वजह से एयरटेल का घरेलू कारोबार घाटे में चला गया तो वोडाफोन-आइडिया को विलय करना पड़ा, लेकिन जियो मुनाफे में है। PLC



Comments

CAPTCHA code

Users Comment