नई दिल्ली: कांग्रेस सांसद और राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद को मंगलवार दोपहर में जम्मू हवाई अड्डे पर रोक लिया गया. आजाद जम्मू प्रदेश कांग्रेस कमेटी मुख्यालय में आयोजित होने वाली बैठक में भाग लेने गए थे. उन्हें जम्मू हवाई अड्डे से ही वापस दिल्ली भेज दिया गया. इससे पहले गुलाम नबी आज़ाद और जम्मू-कश्मीर के कांग्रेस प्रमुख गुलाम अहमद मीर को श्रीनगर हवाई अड्डे पर ही रोका गया था. वह जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद पहली बार गुरुवार को श्रीनगर हवाई अड्डे पर पहुंचे थे.

गुलाम नबी आजाद श्रीनगर में कांग्रेस पार्टी के कार्यालय में नेताओं के साथ बैठक करने वाले थे. यह बैठक जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने से संबंधित थी. दिल्‍ली लौटकर आजाद  नेे अनुच्‍छेद 370 की शक्‍त‍ियों को खत्‍म करने और जम्‍मू-कश्‍मीर पुनर्गठन बि‍ल की कड़ी आलोचना की थी. उन्‍होंने जम्‍मू-कश्‍मीर पुनर्गठन बि‍ल को काला कानून बताया. गुलाम नबी आजाद ने कहा, बीजेपी ने कश्‍मीर को खत्‍म कर दिया है. घाटी में सन्‍नाटा पसरा हुआ है. गुलाम नबी आजाद ने राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल के एक वीडियो को लेकर कहा था कि पैसे देकर आप किसी को भी साथ ले सकते हो.
अजीत डोभाल ने शोपियां में स्थानीय लोगों के साथ एक वीडियो बनाया था जिसमें वह लोगों के साथ खाना खाते व बातचीत करते हुए देखे गए थे.जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद कश्मीर घाटी में पैदा हालात पर राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल की पैनी नजर रखे हुए हैं. उन्होंने घाटी के विभिन्न इलाकों में दौरा कर सुरक्षाबलों से लेकर आम लोगों से मुलाकात की है.PLC.