आई.एन.वी.सी ,
दिल्ली,
लोकपाल विधेयक पर सर्वदलीय बैठक और अन्ना टीम के बीच की वार्ता खत्म हो गई है, ये बैठक बेनतीजा रही और  कोई हल निकलने की बजाय मामला और उलझ सा गया है।  जहां एक और सरकार का कहना है की   बातचीत सकारात्मक रही तो दूसरी और    बैठक के बाद अन्ना टीम बेहद हताश और परेसान  नजर आयी टीम अन्ना का कहना था की सरकार अपने वादे से पलट गयी !
देर रात अन्ना हजारे अपनी टीम के साथ मंच पर आये और अपने चिर परचित अंदाज़ में अपने समर्थको को संबोधित किया अन्ना ने मंच पर आकर कहा की  ये  सरकार सरकार ने हमें फिर से वहीँ लाकर खडा कर दिया है जहां से हम चले थे – साथियों हो सकता की मुझे रात को उठा कर पुलिस हस्पाताल ले जाए – अन्ना ने सभी कहा की अगर वोह मुझें उठाने आ जाए तो कोई हिंसा नहीं करनी है – चुपचाप ले जाने दे !
साथ ही अन्ना ने अपील की अहिंसा के मार्ग पर चल  कर जेल भरना शुरू करना है ! अन्ना की सहयोगी किरन बेदी ने पुलिस का एक sms पढकर बताया की जब तक डोक्टर अन्ना को खतरे के हालत में नहीं बताते तब तक वोह अन्ना को हाथ नहीं लगाएगी !
वही प्रणव मुखर्जी ने देर रत पत्रकारों को बताया की उनके ब्यान को तोड़-मरोड़ टीम अन्ना ने पेश किया – देर रात ही सलमान खुर्शीद ने कहा की बात सकरात्मक रही और आज 12 बजे  फिर टीम अन्ना से जन लोकपाल पर चर्चा होगी – वही विपक्ष की नेता शुषमा सवराज ने कहा की विपक्ष चाहता की सरकार अपना बिल बापस ले और मजबूत जन लोक पाल ये कर आये तभी  तभी हम अन्ना को अन्ना को अंशान वापस लेने को कह सकते है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here