Close X
Wednesday, November 25th, 2020

जंबाज कैंसर मरीजों ने उठाया मस्ती भरे दिन का लुत्फ

आई एन वी सी न्यूज़              

नई  दिल्ली ,  

कैंसर एक ऐसी बीमारी है जो मरीजों को शारीरिक, मानसिक और भावनात्मक रूप से तोड़ कर रख देती है। इस भयावह बीमारी से लड़ने के लिए बहुत अधिक ताकत और दृढ़ संकल्प की जरूरत होती है। इस बीमारी को मात देने वाले जांबाज लोगों की बहादुरी और इच्छाशक्ति को सम्मानित करने के लिए मैक्स सुपर स्पेशलिटी अस्पताल, वैशाली ने विश्व कैंसर दिवस के अवसर  पर आनंद विहार के डी ब्लाॅक स्थित विवेकानंद स्कूल में ओवेरियन कैंसर फाउंडेशन ‘‘सशक्त ’’ के सहयोग से मनोरंजक गतिविधयों और खेल-कूद से भरपूर कार्यक्रम का आयोजन किया।
 
इस मौके पर मुख्य अतिथि के तौर पर अभिनेता राजीव खंडेलवाल तथा मैक्स सुपर हास्पीटल,  के उपाध्यक्ष (आपरेषंस) डा. गौरव अग्रवाल उपस्थित थे।
 
इस कार्यक्रम में 30 से अधिक गतिविधियों का आयोजन किया गया। इन सभी गतिविधियों को कैंसर मरीजों तथा कैंसर को मात देने वाले वालों के लिए खास तौर पर तैयार किया गया था। इन गतिविधियों में क्रिकेट, बास्केटबॉल, टेनिस, एरोबिक्स, जुम्बा, योग आदि शामिल थे। यह कार्यक्रम सुबह नौ बजे शुरू हुआ और 3 बजे तक चला। प्रत्येक प्रतिभागी को एक वारियर किट भेंट की गई जिसमें एक टी-शर्ट, भागीदारी प्रमाण पत्र और अन्य उपहार शामिल थे।

उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए डा. गौरव अग्रवाल ने कहा कि कैंसर को मात देने वाले लोगों ने हमें यह सीख दी है कि जीवन के हर पल का आनंद उठाना चाहिए। इस आयोजन में 300 से अधिक प्रतिभागियों ने हिस्सा लिया। लोग कैंसर शब्द सुनते ही अक्सर उम्मीद खो देते हैं। हालांकि, यह लाइलाज बीमारी नहीं है। लोगों को कैंसर के लक्षणों के बारे में जागरूक होने और नियमित तौर पर शुरुआती जांच कराने की जरूरत है। देश में कैंसर के अधिकांश मामलों में, बीमारी का पता देर से चलता है और यह कैंसर रोगियों की मौत का सबसे प्रमुख कारण है। समय पर जांच, टीकाकरण, प्रारंभिक निदान कैंसर को कम करने के लिए बहुत जरूरी है। मैक्स सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल, वैशाली ने कैंसर को मात देने वाले लोगों को उनकी जीवन यात्रा में सहयोग करने के लिए ही यह पहल की है।”

कैंसर की बढ़ती घटनाओं के मद्देनजर यह जरूरी है कि इस बीमारी के बारे में जागरूकता कायम की जाए । इस आयोजन का मुख्य उद्देश्य कैंसर को हराने वाले लोगों की ताकत को सलाम करना है और कैंसर के हर मरीज और कैंसर को हराकर जीवित बचे लोगों में निहित चैंपियन का सम्मान करना है। वैश्विक स्तर पर कैंसर की घटनाओं में वृद्धि हो रही है, लेकिन भारत में ओवरी का कैंसर महिलाओं का तीसरा सबसे बड़ा कैसर है। इसलिए, यह आवश्यक है कि महिलाओं को इस बीमारी के जोखिम कारकों के बारे में तथा अपने आप को कैंसर से बचाने के एहतियाती उपायों के बारे में जागरूक किया जाए।

ओवेरियन कैंसर फाउंडेशन ‘‘सशक्त ’’ के परामर्ष बोर्ड के सदस्य अभिनेता राजीव खंडेलवाल ने कहा, “इस कार्यक्रम में बहुत सारे लोगों को भाग लेते हुए देखकर बहुत खुषी हो रही है। मैं इस आयोजन का हिस्सा बनने पर रोमांचित अनुभव कर रहा हूं। मैं उन सभी का तहे दिल से शुक्रिया अदा करता हूं जो इस कार्यक्रम में भाग ले रहे हैं क्योंकि आपकी ताकत और इच्छा-शक्ति कई ऐसे लोगों के लिए प्रेरणा है जो कैंसर के साथ जी रहे हैं। आप सभी दूसरों को जीवन में आशा नहीं खोने के लिए प्रेरित करते हैं। आप सभी एक तरह से लोगों को इस बात के लिए जागरूक कर रहे हैं कि कैंसर को हराया जा सकता .

Comments

CAPTCHA code

Users Comment