आई.एन.वी.सी,,
हरयाणा,,
              कांग्रेस सांसद दीपेन्द्र सिह हुड्डा ने कहा कि पिछले सात सालों में प्रदेश की कांग्रेस सरकार ने पूरे हरियाणा को एक सकारात्मक दिशा देकर विकास के क्षेत्र में आगे बढ़ाने का प्रयास किया है जबकि प्रदेश का विपक्ष केवल नकारात्मक राजनीति और प्रदेश के विकास के कामों में रोड़ा अटकाने का प्रयास करता रहा है।
हुड्डा आज राई विधानसभा क्षेत्र के गांव जाटी कलां, नांगल कला, अटेरना, जाखौली तथा कुंडली गांवों में ग्रामीण जनसभाओ को संबोधित कर रहे थे। सांसद जितेन्द्र मलिक, विधायक जयतीर्थ दहिया, मुख्य संसदीय सचिव जयबीर बाल्मिकी के साथ पहुंचे सासंद हुड्डा का सभी गावों में भारी स्वागत किया गया और उन्हें फूलमालाओं से लाद दिया गया। गांवों में सांसद को मोटरसाइकिल रैली की अगवाई में विशाल जुलूस की शक्ल में जनसभा स्थल तक ले जाया गया। लोगोंं का उत्साह देखते ही बनता था और वे कांग्रेस पार्टी व मुख्यमंत्री भूपेन्द्र सिंह हुड्डा के पक्ष में जोरदार नारे लगा रहे थे, जिससे श्रीहुड्डा प्रभावित दिखे और उन्होंन स्थानीय सांसद जितेन्द्र मलिक व विधायक जयतीर्थ दहिया के साथ मिलकर इलाके की समस्याओ को दूर कराने के लिए मुख्यमंत्री के समक्ष पुरजोर पैरवी करने का भरोसा दिलाया और अधिकारियों को मौके पर ही आम समस्याओ को तुरंत दूर करने का निर्देश दिया।
        सांसद हुड्डा ने कहा कि कांगे्रस सरकार ने सभी छतीस बिरादरी को साथ लेकर पूरे प्रदेश का चहुंमुखी एवं सर्वागिण विकास करवाने का भरपूर प्रयास किया है और प्रदेश को एक अच्छी दिशा देने के लिए ईमानदार और सार्थक कोशिश हुई है। उन्होने कहा कि चुनाव में अभी दो ढहाई साल का समय बाकी है और यह समय राजनीति का नहीं बल्कि काम करने का समय है। आज तो वे केवल  जून की तेज गरमी में राई में आयोजित विशाल रैली के लिए धन्यवाद करने और क्षेत्र की समस्याओं का समाधान करने के लिए आए हैं। उन्होंने कहा कि समाज के सभी वर्गो के हित को ध्यान में रखते हुए योजनाएं लागू की गई हैं, जिसका लाभ पूरे प्रदेश की जनता को मिल रहा है। उन्होंने कहा कि किसान को फसलों के अच्छे भाव तथा अधिग्रहीत जमीन का उचित मुआवजा दिया गया है। विपक्ष द्वारा प्रदेश सरकार की आलोचना का हवाला देते हुए उन्होंने सीधा प्रश्न करते हुए कहा कि जब उनकी सरकार थी तो उन्होने जमीनो के अच्छे भाव क्यों नहीं दिए, उन्होंने अपने कार्यकाल में किसी भी गरीब व्यक्ति को एक भी गज जमीन क्यों नहीं दी और किसी भी गरीब परिवार के बच्चों को वजीफे क्यों नहीं दिए गए। दूसरी ओर वर्तमान सरकार द्वारा  अनुसूचित जाति, पिछड़ों और सभी वर्गो के गरीब लोगों के सोलह लाख से ज्यादा बच्चों को एक सौ पचास रुपये से लेकर पांच सौ रुपये तक मासिक वजीफे दिए जा रहे हैं ताकि कोई भी छात्र आर्थिक मजबूरी की वजह से शिक्षा से वंचित न रह जाए। उन्होंने कहा कि राजीव गांधी एजूकेशन सिटी देश ही नहीं विश्व का सबसे बड़ा एजूकेशन कैंपस होगा व इसमें शिक्षण ग्रहण करके बच्चों का अच्छा भविष्य सुनिश्चित हो सकेगा। इस एजूकेशन सिटी की स्थापना से क्षेत्र के हजारों युवाओं को रोजगार के अवसर भी प्राप्त होगे।
        मिले जनसमर्थन से उत्साहित दिख रहे श्री हुड्डा ने कहा कि प्रदेश के विपक्ष को सकारात्मक भूमिका निभानी चाहिए जबकि वे कभी राजीवगांधी एजूकेशन सिटी, कभी बिजली के कारखाने और कभी हांसी बुटाना नहर का विरोध करते हैं। उन्होंने कहा कि  जब  इनेलो का शासन था तो अपराधी व राजनेता एक ही थाली में रोटी खाते थे जिससे प्रदेश का युवा भ्रमित होना शुरू हो गया था। किसानों को उनकी जमीन के अधिग्रहण होने पर केवल एक से दो लाख रुपये प्रति एकड़ मुआवजा मिलता था जबकि वर्तमान सरकार ने न केवल उचित मुआवजा सुनिश्चित किया है बल्कि अब तो लैंड पुलिंग की नीति के अनुसार किसान को विकसित जमीन में से हिस्से की व्यवस्था की गई है। उन्होंने कहा कि हरियाणा की नीतियों की प्रशंसा पूरे देश में हो रही है।
        श्री हुड्डा ने कहा कि हरियाणा हर क्षेत्र में आगे बढ़ा है और पिछले सात सालों में प्रदेश सरकार ने बगैर किसी भेदभाव के पूरे प्रदेश का  एक समान विकास किया है। आज पूरे प्रदेश में पढ़ाई लिखाई व खेल का माहौल बना है जिससे आज प्रदेश के युवा शिक्षा एवं खेल की ओर रूख कर रहा है, आज देश भर में सबसे अच्छे खिलाड़ी हरियाणा से आते हैं, आईएएस व आईआईटी में टॉपर भी हरियाणा से ही आ रहे हैं, जो कि भविष्य के लिए अच्छा संकेत है। उन्होंने कहा कि इनेलों ने पहले राजीवगांधी एजूकेशन सिटी और बाद में फतेहाबाद के गौरखपुर में स्थापित होने वाले परमाणु बिजली घर का विरोध किया लेकिन लोग उनके झांसे में नहीं आए।
        जनसभाओं को संबोधित करते हुए सांसद जितेन्द्र मलिक ने कहा कि पहले यहां के किसान सब्जि व फल बेचने आजादपुर मंड़ी व फसल बेचने नरेला जाया करते थे लेकिन मुख्यमंत्री श्रीहुड्डा की नीतियों से वे मालामाल हो गए हैं और पूरे इलाके में खुशहाली आई है। उन्होने कहा कि प्रदेश के खिलाडि़यो ने भी इन्हीं नीतियों के चलते मैडल जीते हैं।
         विधायक जयतीर्थ दहिया ने कहा कि विपक्षी नेता जब हिसार सिरसा जाते हैं  तो वहां सारा पैसा रोहतक सोनीपत में लगाने का आरोप लगाते हैं लेकिन जब यहां आते हैं तो यहां के लोगों को बहकाने व लड़ाने का काम करते हैं। उन्होने कहा कि विपक्ष का इरादा केवल काम रोकने का है और वर्तमान विधानसभा में भी वे केवल काम रोको प्रस्ताव लाएं, एक भी काम चलाओ प्रस्ताव नहीं लाए। जनसभाओं में  जिला कांग्रेस कमेटी के वरिष्ट उपाध्यक्ष सुरेन्द्र शर्मा, ब्लाक कांग्रेस कमेटी खरखौदा के अध्यक्ष जोगेन्द्र दहिया,ब्लाक कांग्रेस कमेटी सोनीपत के अध्यक्ष भलेराम जांगड़ा, प्रमिन्द्र जौली, सतीश चेयरमैन,सतेन्द्र आंतिल, एडवोकेट भगत सिंह, अशोक सरोहा,शमशेर दहिया, अर्जुन दहिया, अनूप मलिक, ओमबीर, रामकिशन, कुलदीप, धर्मपाल बिधलान, भूपेन्द्र मलिक, जिला पार्षद पिंकी खंदराई, मनोज रिढ़ाऊ, संजीव दहिया, होशियार  सिह बाल्मिकी, इंदुराज नरवाल, जगदीश भावड़ सहित अनेक कांग्रेस नेता व कार्यकर्ता मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here