Monday, July 6th, 2020

चिकित्सा व्यवस्था में सुधार की खासी गुंजाइश

आई एन वी सी न्यूज़
जयपुर,
भारत के पूर्व राष्ट्रपति श्री प्रणब मुखर्जी ने कहा कि देश में चिकित्सा व्यवस्था में सुधार की खासी गुंजाइश है। उन्होंने कहा चिकित्सा के क्षेत्र में अधिक निवेश हो, नवाचार हो और शोधार्थियों को बेहतरीन अवसर और माहौल उपलब्ध कराया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि जब तक चिकित्सकीय सुविधाओं का लाभ गांव-ढाणी और दूर-दराज के क्षेत्रों तक नहीं पहुंचेगा तब तक आमजन लाभान्वित नहीं हो सकेंगे।    

श्री मुखर्जी शनिवार को बिड़ला ऑडिटोरियम में आयोजित 26वीं राज मेडिकोन-2019 की दो दिवसीय कॉन्फ्रेंस को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि चिकित्सकोें का पेशा समाज के कल्याण के लिए पूरी तरह समर्पित होता है। उन्होंने पिछले दिनों देश के कुछ हिस्सों में परिजनों द्वारा डॉक्टर्स पर हमले की निंदा करते हुए कहा कि मरीजों के परिजनों को ऎसे मामलों में धैर्य नहीं खोना चाहिए। डॉक्टर्स कम संसाधनों के बावजूद अधिकाधिक लोगों की सेवा करते हैं।    

इस अवसर पर चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने कहा कि राज्य में आमजन को बेहतरीन चिकित्सकीय सुविधाएं उपलब्ध कराने के साथ चिकित्सकों की सुरक्षा की व्यवस्था भी सुनिश्चित की जाएगी। उन्होंने कहा कि राज्य में चिकित्सकीय व्यवस्थाओं में तेजी से सुधार हो रहा है यही वजह है कि नीति आयोग की रिपोर्ट में राजस्थान का नाम दूसरे पायदान पर आया है। उन्होंने कहा कि सरकार हर तबके को अच्छी सेहत का अधिकार दिलाने के लिए विधानसभा के इस सत्र में ‘राइट टू हैल्थ’ बिल  लाएगी।    

श्री रघु शर्मा ने बताया कि राज्य एनीमिया मुक्त होने की दिशा में तेजी से बढ़ रहा है। नशा मुक्ति के प्रयासों के चलते प्रदेश में ई-सिगरेट पर पाबंदी लगा दी है। उन्होंने कहा कि सरकार मिलावटखोरी की रोकथाम के लिए भी व्यापक स्तर पर काम करेगी। उन्होंने कहा कि डॉक्टर्स सदैव मरीजों की सेवा के लिए होते हैं, ऎसे में किसी भी अप्रिय घटना होने पर परिजन हिम्मत ना खोएं ताकि  डॉक्टर्स से मारपीट की घटनाओं की पुनरावृति ना हो।    

इस अवसर पर चिकित्सा विभाग के प्रमुख शासन सचिव श्री रोहित कुमार सिंह, इंडियन मेडिकल एसोशिएशन के सेकेट्ररी जनरल श्री आर वी शेखरन, डॉ. एमएल स्वर्णकार, श्री रंजन शर्मा, श्री राजेन्द्र शर्मा, श्री वीके जैन, डॉ. अजय चौधरी सहित गणमान्य उपस्थित रहे। कार्यक्रम के दौरान प्रतिभाओं का सम्मान भी किया गया।



 

Comments

CAPTCHA code

Users Comment