Close X
Sunday, November 28th, 2021

ग्रहण से बदलती है दशा  

ज्योतिष के अनुसार ग्रहण से केवल प्रकृति ही नहीं बल्कि मानवों पर भी प्रभाव डालता है। जब-जब ग्रहण होते हैं तो वातावरण में कुछ न कुछ हलचल ज़रूर होती है ठीक उसी तरह ग्रहण का असर राशियों पर भी देखने को मिलता है। हर साल सूर्यग्रहण और चंद्रग्रहण होते हैं। साल 2020 में इस साल कुल छह ग्रहण हैं। जिनमें से चार चंद्रग्रहण होंगे और 2 सूर्यग्रहण हैं ।
10 जनवरी, 2020 में लगेगा साल का पहला चंद्र ग्रहण
साल 2020 में लगने वाला सबसे पहला ग्रहण है चंद्र ग्रहण होगा। यह साल की शुरुआत में 10 जनवरी के दिन लगेगा। इसे भारत में देखा जा सकेगा।
ग्रहण का टाइम:  रात 10:37 से 11 जनवरी को 2:42 तक
5 जून, 2020 को लगेगा साल का दूसरा चंद्र ग्रहण
चंद्र ग्रहण का समय: रात को 11:15 से 6 जून को 2:34 तक
यह चंद्र ग्रहण भारत सहित अफ्रीक, एशिया, यूरोप और ऑस्ट्रेलिया में दिखाई देगा।
30 नवंबर, 2020 तीसरा चंद्र ग्रहण
ग्रहण का समय: दोपहर को 1:02 से शुरू होगा और शाम 5:23 तक
यह ग्रहण: प्रशांत महासागर, एशिया, अमेरिका और ऑस्ट्रेलिया में दिखेगा।
चौथा चंद्रग्रहण ग्रहण यह 5 जुलाई 2020 को लगेगा।
यह चंद्रग्रहण 5 जुलाई की सुबह को 08 बजकर 37 मिनट से शुरू होगा और 11 बजकर 22 मिनट तक रहेगा। यह भारत में नहीं दिखाई देगा। इसे केवल यूरोप, अमेरिका और अफ्रीका में देखा जाएगा।
साल का पहला सूर्य ग्रहण 21 जून को लगेगा।
21 जून, 2020 को लगेगा साल का पहला सूर्य ग्रहण
सूर्य ग्रहण का समय: सुबह 9:15 से दोपहर 3:04 तक। पूर्ण ग्रहण सुबह 10:17 से 2.02 तक होगा। वहीं 12:10 पर ग्रहण का सबसे ज्यादा प्रभाव होगा।
यह सूर्य ग्रहण: भारत, एशिया और दक्षिण पूर्व यूरोप में दिखेगा
14 दिसंबर, 2020 सूर्यग्रहण को लगेगा दूसरा सूर्य ग्रहण, वहीं यह साल का आखिरी ग्रहण होगा। इसकी अवधि पांच घंटे 19 मिनट रहेगी।  यह ग्रहण शाम 7:03 बजे से 15 दिसंबर को 12 बजे तक रहेगा पर यह यह ग्रहण भारत में नहीं दिखेगा, इसे प्रशांत महासागर में देखा जा सकेगा।
ग्रहण के दौरान क्या करें
ग्रहण काल को सनातन धर्म में अच्छा नहीं माना जाता। इस दौरान मंत्र जाप करें पर भगवान की प्रतिमाओं को हाथ न लगाये।  इस दौरान भोजन भी न करें। पानी में तुलसी के पत्ते डालें। ग्रहण के दौरान बाहर न निकलें। ग्रहण के बाद स्नान कर पूजा पाठ करें। PLC.

 
 

Comments

CAPTCHA code

Users Comment