Close X
Sunday, October 24th, 2021

गरीब कल्याण के लिए नहीं छोड़ी कोई कसर

आई एन वी सी न्यूज़
भोपाल,
केन्द्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री अमित शाह ने कहा कि आज प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के द्वितीय चरण के शुभारंभ के साथ ही मध्यप्रदेश में 5 लाख माताओं को निःशुल्क गैस कनेक्शन का वितरण किया जा रहा है। इस योजना में ग़रीब महिलाओं को अब धुंए से मुक्ति मिलेगी। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में देश में विकास की धारा प्रवाहित हो रही है। केन्द्र सरकार देश के गरीब, पिछड़े, आदिवासी एवं दलित वर्ग के कल्याण के लिए सतत् रूप से कार्य कर रही है। केन्द्र सरकार के वर्ष 2014 के प्रथम कार्यकाल से ही ग़रीब-कल्याण के लिए बनाई गई योजनाओं को अमलीजामा पहनाया जा रहा है। केंद्रीय गृह मंत्री श्री अमित शाह वेटनरी कॉलेज ग्राउण्ड जबलपुर में नि:शुल्क गैस कनेक्शन वितरण करने की प्रधानमंत्री उज्जवला योजना 2.0 के शुभारंभ कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे।

केन्द्रीय मंत्री श्री शाह ने कहा कि 2014 तक लगभग 13 करोड़ धनाढ्य परिवारों के पास गैस कनेक्शन था। गरीब महिलाओं को पारम्परिक तरीक़े से लकड़ी चुन कर चुल्हे पर खाना बनाना पड़ता था। लकडी के धुएं से फेफड़ों एवं आँखों की समस्यायें होती थी। उनके इस दर्द को प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने बख़ूबी समझा और उज्जवला योजना की शुरुआत की। अब तक लगभग 9 करोड़ गरीब परिवारों के घरों तक नि:शुल्क गैस कनेक्शन प्रदान किये गये। वर्ष 2019 में सरकार के दूसरे कार्यकाल में एक करोड़ निःशुल्क गैस कनेक्शन देने का कार्य किया गया। मध्यप्रदेश में 74 लाख लोगों को गैस कनेक्शन दिए गए। आज पाँच लाख लोगों को इसका लाभ प्रदान किया जा रहा है।

केन्द्रीय मंत्री श्री शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेत़ृत्व में प्रधानमंत्री जन धन योजना के तहत बैंक खाते खुलवाए गए एवं इसमें शासकीय योजनाओं की राशि को सीधे भेजा गया। हर घर में बिजली पहुँचाई गई। वर्ष 2022 तक सभी पात्र हितग्राहियों के लिए पक्का मकान एवं शौचालय की व्यवस्था करवाई जा रही है। आयुष्मान कार्ड योजना में पात्र परिवारों को पाँच लाख रुपये का नि:शुल्क उपचार दिया जा रहा है। कोरोना की महामारी को देखते हुए नि:शुल्क अनाज वितरण करने की भी व्यवस्था की गई है। सरकार द्वारा सिर्फ़ वादे नहीं किए गए, बल्कि उन्हें पूरे कर इसका लाभ निचले स्तर तक पहुँचाने का कार्य किया गया है। देश के 130 करोड़ लोगों का पूर्ण समावेशी विकास करना प्रधानमंत्री श्री मोदी का लक्ष्य है। इसके तहत आत्म-निर्भर भारत, आज़ादी का अमृत महोत्सव, गरीब के चेहरे पर मुस्कान लाना, बेरोज़गारों को काम दिलाना, सरकार की मुख्य प्राथमिकता है। श्री शाह ने आज के कार्यक्रम में लाभान्वित होने वाली महिलाओं को बधाई भी दी।

गरीब माताओं को चूल्हे के धुएं से मुक्ति दिलाने का अभियान है उज्जवला योजना

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना गरीब माताओं को चूल्हे के धुए से मुक्ति दिलाने वाला अभियान है। इस अभियान में आज मध्यप्रदेश में 5 लाख रसोई गैस कनेक्शन उपलब्ध कराए जा रहे हैं। उज्ज्वला योजना में मध्यप्रदेश को मिले 17 लाख लक्ष्य में शेष बचे 12 लाख कनेक्शन जल्द प्रदान किये जायेंगे। प्रधानमंत्री उज्जवला योजना के द्वितीय चरण में योजना का दायरा बढ़ाया गया है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री मोदी के नेतृत्व में केंद्र सरकार गरीबों के कल्याण में कोई कसर नहीं छोड़ रही है। साथ ही गरीबों के जीवन स्तर को सुधारने के लिए दिन-रात काम कर रही है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने जीवन के लिए आवश्यक रोटी, मकान, स्वास्थ्य से जुड़ी केंद्र सरकार की योजनाओं का विस्तार से जिक्र किया। उन्होंने बताया कि केंद्र और राज्य सरकार द्वारा कोविड संकट के दौरान गरीबों को प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना में लगभग 7 माह का मुफ्त खाद्यान्न उपलब्ध कराया जा रहा है। इसी प्रकार केंद्र सरकार ने प्रधानमंत्री आवास योजना में 2023 तक गरीबों के लिए पक्के मकान दिलाने का लक्ष्य रखा गया है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि मध्यप्रदेश में इस वर्ष 8 लाख प्रधानमंत्री आवास का निर्माण किया जाएगा। केंद्र सरकार के नेतृत्व में अब घर-घर पानी पहुँचाने की अभिनव योजना जल जीवन मिशन में भी युद्ध स्तर पर कार्य जारी है।

चिन्हित प्राइवेट अस्पतालों में मिलेगा निःशुल्क इलाज

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने केंद्र सरकार की कल्याणकारी और लोकप्रिय योजना आयुष्मान भारत निरामयम का जिक्र करते हुए कहा कि प्रत्येक परिवार को इस योजना में 5 लाख तक का नि:शुल्क इलाज दिया जा रहा है। उन्होंने बताया कि मध्यप्रदेश में अब तक 2.5 करोड़ आयुष्मान कार्ड बनाए जा चुके हैं। आयुष्मान कार्ड बनाने का कार्य अभी भी सतत जारी है। योजना में अब चिन्हित प्राइवेट अस्पतालों में भी पात्र आयुष्मान कार्डधारियों को भी नि:शुल्क इलाज मुहैया कराया जाएगा।

स्व-सहायता समूहों को इस वर्ष मिलेगा 2500 करोड़ का क्रेडिट लिंकेज

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि महिला सशक्तिकरण के लिए भी प्रयास निरंतर किये जा रहे हैं। इस वर्ष स्व-सहायता समूहों को 2500 करोड़ का क्रेडिट लिंकेज उपलब्ध कराया जाएगा। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र सरकार का यह सपना है कि प्रत्येक कामकाजी माताओं की आय कम से कम 10 हज़ार रुपये प्रति माह जरूर हो।

उत्पाद प्रदर्शनी का अवलोकन

केन्द्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री श्री अमित शाह और मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान सहित अतिथियों ने स्व-सहायता समूहों द्वारा लगाए गए उत्पादों की प्रदर्शनी का अवलोकन किया। इस दौरान उन्होंने समूह के सदस्यों से चर्चा भी की। उत्पाद प्रदर्शनी में वस्त्र निर्माण, मसाला, अगरबत्ती, सेनेटरी नेपकीन, पापड़ के स्टॉल लगाये गये।

मंच से उज्जवला योजना के हितलाभ वितरित

केन्द्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री श्री अमित शाह, मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान सहित अतिथियों ने मंच से प्रधानमंत्री उज्जवला योजना 2.0 के द्वितीय चरण के शुभारंभ पर हितग्राहियों को गैस कनेक्शन वितरण किए। मंच से लाभांवित होने वाले हितग्राहियों में रेनू कोटिया, शाबाना बेगम, सोनू बेन, ज्योति प्रजापति, निशा कुशवाहा शामिल रहे।

कार्यक्रम का शुभारंभ कन्या-पूजन के साथ हुआ। स्वागत उद्बोधन सांसद श्री राकेश सिंह ने दिया। केन्द्रीय पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्री श्री हरदीप सिंह पुरी कार्यक्रम से वर्चुअली जुड़े। केन्द्रीय पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस राज्य मंत्री श्री रामेश्वर तेली ने उज्जवला योजना के संबंध में विस्तृत जानकारी दी। प्रधानमंत्री उज्जवला योजना की सफलता पर आधारित लघु फिल्म का प्रदर्शन किया गया। खाद्य, सहकारिता एवं उपभोक्ता संरक्षण मंत्री श्री बिसाहू लाल सिंह ने आभार व्यक्त किया।

केन्द्रीय जल संसाधन एवं खाद्य प्र-संस्करण मंत्री श्री प्रहलाद पटेल, केन्द्रीय इस्पात एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री फग्गन सिंह कुलस्ते, मध्यप्रदेश के गृह, जेल संसदीय कार्य, विधि एवं विधायी कार्य मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा, जनजातीय कार्य एवं अनुसूचित जाति कल्याण मंत्री सुश्री मीना सिंह माण्डवे, लोक निर्माण, कुटीर एवं ग्रामोद्योग तथा जबलपुर जिले के प्रभारी मंत्री श्री गोपाल भार्गव, वन मंत्री श्री विजय शाह, सहकारिता एवं लोकसेवा प्रबंधन मंत्री श्री अरविंद भदौरिया, खजुराहो सांसद श्री वी.डी. शर्मा, जबलपुर सांसद श्री राकेश सिंह, राज्यसभा सांसद श्रीमती संपतिया उइके, जन-प्रतिनिधि, हितग्राही, स्व-सहायता समूह की दीदियाँ तथा बड़ी संख्या में नागरिक उपस्थित रहे।

Comments

CAPTCHA code

Users Comment