Friday, October 18th, 2019
Close X

खेती हमारा मूल आधार

आई एन वी सी न्यूज़
रायपुर,
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज बिलासपुर के सरकंडा में लगभग आठ करोड़ 59 लाख रूपए की लागत से नवनिर्मित बैरिस्टर ठाकुर छेदीलाल कृषि महाविद्यालय एवं अनुसंधान केन्द्र का लोकार्पण किया। इस दौरान उन्हांेने महाविद्यालय के प्रतिभावान छात्र-छात्राओं को सम्मानित किया।

    इस अवसर पर मुख्यमंत्री श्री बघेल ने कहा कि किसानांे को आगे बढ़ाने के लिये कृषि के क्षेत्र में काम करने की आवश्यकता है। इसके लिये किसानों को सही दिशा एवं उत्पादन के साथ बाजार भी उपलब्ध हो। धान उत्पादन के साथ-साथ उसका सहायक उद्योग भी लगना चाहिए। कृषि करोड़ों लोगों को रोजगार देता है। आज भी देश में 70 प्रतिशत लोग कृषि पर निर्भर हैं। छत्तीसगढ़ में पर्याप्त नदियां, बारहमासी नाले और उपजाऊ जमीन है। यहां भरपूर खनिज संसाधन उपलब्ध है। इसके लिए योजना बनाकर काम करने की जरूरत है। मुख्यमंत्री ने कहा कि आगामी वर्षों में छत्तीसगढ़ की तस्वीर बदलेगी। उन्हांेने कहा कि बैरिस्टर ठाकुर छेदीलाल विद्वान, कुशाग्र बुद्धि के साथ सहज, सरल भी थे। उनके नाम के अनुरूप यह कृषि महाविद्यालय ऊंचाई पर पहुंचेगा।

कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे कृषि मंत्री श्री रविन्द्र चौबे ने कहा कि खेती हमारा मूल आधार है। छत्तीसगढ़ में धान के साथ सोयाबीन, गन्ना, गेहूं, चना और सब्जियों का बेहतर उत्पादन होता है। लगभग ढाई-तीन सौ करोड़ रूपए का टमाटर उत्पादन होता है। इसकी प्रोसेसिंग की जरूरत है। छत्तीसगढ़ में आने वाले समय में कृषि के क्षेत्र में बेहतर विकास करेंगे। यह देश का समृद्ध राज्य बनेगा। इसी तरह नये-नये कृषि महाविद्यालय खोले जायंेगे। कृषि के साथ उद्यानिकी महाविद्यालय खोलने के लिये मुख्यमंत्री के निर्देश है। श्री चौबे ने आव्हान किया कि छत्तीसगढ़ की समृद्धि के लिए मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल एवं सरकार की मंशा के अनुरूप अपना योगदान देंगे।

गृह मंत्री एवं जिले के प्रभारी मंत्री श्री ताम्रध्वज साहू ने कहा कि किसान अधिक उपज के लिये दवाईयों का उपयोग करने लगे हैं। जो स्वास्थ्य के लिए ठीक नहीं है। हमें जैविक खेती की ओर बढ़ना आवश्यक है। उन्हांेने महाविद्यालय के छात्र-छात्राओं से कहा कि पढ़ाई का मतलब नौकरी न समझें, बल्कि जो पढ़ाई कर रहे हैं उसे अपना साधन बनाये। यह महाविद्यालय कमियों के बावजूद अनेक उपलब्धियां हासिल की है। इसके लिये उन्हांेने बधाई दी।

इन्दिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ.एस.के.पाटिल ने कृषि विश्वविद्यालय एवं उसके अधीनस्थ कृषि महाविद्यालयांे के संबंध में जानकारी दी। कार्यक्रम के पूर्व महाविद्यालय में नवप्रवेशित छात्रों का उन्मुखीकरण कार्यक्रम भी आयोजित किया गया। इस अवसर पर आयोजित कृषि प्रदर्शनी अतिथियों ने अवलोकन किया। अतिथियों द्वारा डॉ.सी.पी.पाण्डेय एवं संजय वर्मा के पुस्तक फंडामंेटल एवं हार्टीकल्चर पुस्तक का विमोचन किया गया।

कार्यक्रम मंे बिलासपुर विधायक श्री शैलेष पाण्डेय, तखतपुर विधायक श्रीमती रश्मि सिंह, कटघोरा विधायक श्री पुरूषोत्तम कंवर, पूर्व विधायक श्री बोधराम कंवर, श्री अटल श्रीवास्तव, श्रीमती चन्द्राकर, श्री प्रदीप शर्मा, श्री आनंद मिश्रा, महाविद्यालय के प्राध्यापकगण, छात्र-छात्राएं एवं क्षेत्र के किसान मौजूद थे।



 

Comments

CAPTCHA code

Users Comment