Sunday, February 23rd, 2020

खेती लागतों में भारी वृद्धि होने के वावजूद किसानों को कम से कम समर्थन मूल्य ठीक ना मिलने के कारण उनकी रीढ की हड्डी टृट गई है : प्रकाश सिंह बादल

parkash singh badalआई एन वी सी,
करतारपुर,
राज्य मे खेतीबाडी विभिन्नता को उत्साहित करने सम्बन्धी खोज एंव डिजाईन करने के लिए अन्य अति आधुनिक सेन्टर आफ ऐेक्सीलेैंस (श्रेष्ठता के केन्द्रों) की स्थापना पर बल देते हुये मुख्यमंत्री पंजाब ने आज कहा कि यह दूसरी हरी क्रान्ति के मन्दिर है जो किसानों को आजकल  के मंदी के दौर में से बाहर निकाल सकते है।
यहां सेन्टर आफ ऐक्सीलैंस फार वेजीटेबल के उदधाटन अवसर पर हुये समागम दौरान एकत्र को सम्बोधन करते हुये मुख्यमंत्री ने कहा कि सारे पंजाब के लिए बहुत ही इतिहासिक दिन है क्योकि इससे राज्य की प्रगति एवं खुशहाली के नये रास्ते खुलेंगे। उन्होने कहा कि चाहे राज्य के किसानों ने बहुुत सारे अन्न पैदा करके देश को अन्न के मामले मे आत्मनिर्भर बनाया है परन्तु केन्द्र सरकार की गल्त नीतियों के कारण पंजाब के किसानी गंभीर आर्थिक संकट मे धिर गई है। स. बादल ने कहा कि खेती लागतों में भारी वृद्धि होने के वावजूद किसानों को कम से कम समर्थन मूल्य ठीक ना मिलने के कारण उनकी रीढ की हड्डी टृट गई है एवं इसलिए राज्य मे फसली विभिन्नता को अपनाना बहुत जरुरी हो गया है।
म्ुाख्यमंत्री ने कहा कि आज के युग मे यह सेन्टर आफ ऐक्सीलैंस ना केवल प्रकृातिक संसाधनों की बचत करेगे बल्कि यह राज्य के सर्वपक्षीय विकास के साथ साथ किसानों की खुशहाली में बढोतरी करेगें । उन्होने कहा कि इन केन्द्रों मे प्रयोग की जाने वाली आधुनिक तकनीकों के कारण राज्य के किसान विश्व स्तरीय तकनोलीजी अपनायेगे,जिससे उनको भारी लाभ होगा। स.बादल ने कहा कि राज्य सरकार ऐसे अधिक से अधिक केन्द्र स्थापित करने मे कोई कसर बाकी नही छोडगी,क्योंकि इन से सब्जीयों एवं फलों की खेती को बडे स्तर पर बढावा मिलेगा।
ईजरायल एवं पंजाब के बीच मजबूत सम्बन्धों को दोहरातें हुये मुख्यमंत्री ने कहा कि ईजरायल एवं पंजाब दोनों ने अपनी मातृभूमि के लिए बडी कुबार्नीयां की है। उन्होने ईजरायल के राजदूत श्री एल्न उशपिज को अपील की कि वो ऐसे अन्य केन्द्र राज्य मे स्थापित करने के लिए राज्य सरकार की सहायता करे ताकि किसानों को इन से लाभ मिल सके। उन्होने कहा कि ऐसे केन्द्र अन्य स्थापित होने से ईजरायल एवं पंजाब के बीच आपसी सम्बन्धों मे अधिक मजबूती आयेगी।
मुख्यमंत्री ने  राज्य के किसानों को आह्वान किया कि वो फसली विभिन्नता को अपनी आमदन बढाने के साथ साथ राज्य की प्रगति के लिए भी अपनाये। उन्होने कहा कि अब समय है कि किसान गेहूं धान के फसली च्रक मे से बाहर निकले। स.बादल ने कहा कि राज्य सरकार की कोशिशों के परिणाम स्वरुप पहले ही किसान मक्की,सोयाबीन,सब्जीयों एवं फलो की खेती को अपना कर बडा लाभ कमा रहे हैं ।
अपने भाषण में इज़राईल के राजदूत  श्री एलन उशपिज़ ने कहा कि इस सैंटर की शुरूआत की बहुत महत्ता है कयोंकि इस से पंजाब के किसानों की खुशहाली और आने वाली पीढ़ीओं की बढिय़ा स्वास्थय की नींव रखी गई है। उन्होंने इस सैंटर को समय सिर मुक्कमल करने के लिए पंजाब सरकार की सरहाना  करते हुए कहा कि ऐसे विशेष  गुण पंजाब को तरक्की वाला राज्य साबित करते हैं। उन्होंने कहा कि यह सैंटर ना केवल आधुनिक कृषि उपकरणों की पेशकारी करेगा बल्कि यह इजराईल और पंजाब के बीच आपसी विशवास और संबंधों के लिए भी एक नये युग का आरंभ करेगा। उन्होंने कहा कि यह सैंटर पंजाब और इज़राइल सरकार की सख्त मेहनत प्रतिबद्धता और उच्च सोच का नतीजा है। मुखयमंत्री ने इस अवसर श्री एलन को श्री हरमंदिर साहिब का मॉडल दे के सम्मानित किया।
इससे पूर्व पत्रकारों से बातचीत करते हुए स.बादल ने नशा तस्करी की सी बी आई से जांच करवाए जाने की किसी भी संभावना को पूरी तरह रद्द कर दिया। उन्होंने कहा कि पंजाब पुलिस इस केस की बढिय़ा ढंग से  जांच कर रहीहै। स.मनप्रीत सिंह बादल के नेतृत्व वाली पी पी पी के आम आदमी पार्टी में मिलने की संभावना संबंधी पूछे एक प्रश्र के उत्तर में उन्होंने कहा कि इससे राज्य पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा। श्री अरविंद केजरीवाल के दिल्ली के मुख्यमंत्री के तौर पर सफल होने संबंधी उन्होंने कहा कि यह तो समय ही बताएगा और इस अवसर पर इस संबंधी कोई टिप्पणी करना बहुत जल्दबाजी होगी।
देश में मुख्यमंत्रियों और मंत्रियों को भारी सुरक्षा देने संबंधी पूछे एक प्रश्र के उत्तर में मुख्यमंत्री ने कहा कि वी वी आई पीज़ को सुरक्षा छतरी केन्द्र सरकार द्वारा निर्धारित की जाती है और इसमें बढ़ोतरी या कम करने में राज्य सरकारों की कोई भूमिका नहीं होती। उन्होंने कहा कि केन्द्रीय सुरक्षा एजेंसियां वी वी आई पीज़ की सुरक्षा संबंधी लगातार निगरानी करती हैं और उस अनुसार उनके लिए सुरक्षा तय की जाती है। स.बादल ने आम आदमी पार्टी के नेता श्री अरविंद केजरीवाल जैड सिक्योरिटी लेने से मना करने संबंधी कोई भी टिप्पणी करने से इन्कार कर दिया।
इस अवसर पर मुख्यमंत्री के साथ कैबिनट मंत्री स.सरवण सिंह फिल्लौर, विधायक श्री गुरप्रताप सिंह बडाला, मुख्यमंत्री के विशेष प्रधान सचिव श्री गुरकीरत कृपाल सिंह, कृषि सचिव स.काहन सिंह पन्नू, राष्ट्रीय बागवानी मिशन के निदेशक श्री संजीव चोपड़ा, आयुक्त जालंधर डिवीजन श्री आर वेंकटारत्नम, उपायुक्त श्री वरूण रूज़म, एस एस पी देहाती श्री जसप्रीत सिंह सिद्धू, निदेशक कृषि  डा.मंगल सिंह, निदेशक बागवानी मिशन पंजाब डा.गुरकंवल सिंह, निदेशक बागवानी पंजाब श्री लाजविंदर सिंह बराड़ और अन्य प्रमुख व्यक्ति उपस्थित थे।

Comments

CAPTCHA code

Users Comment