Close X
Tuesday, April 20th, 2021

खेती-किसानी में महिलाओं की महत्वपूर्ण भूमिका

आई एन वी सी न्यूज़ लखनऊ, उत्तर प्रदेश के कृषि मंत्री श्री सूर्य प्रताप शाही ने आज यहां भारतीय गन्ना अनुसंधान संस्थान में प्रदेश में पहली बार आगामी 26, 27, 28 अक्टूबर को आयोजित होने वाले ‘कृषि कुम्भ’ सम्बन्धी कार्यों का शुभारम्भ भूमि पूजन के साथ किया। भूमि पूजन में कृषि राज्य मंत्री श्री रणवेन्द्र प्रताप सिंह ‘धुन्नी सिंह’ तथा पशुधन एवं मत्स्य राज्यमंत्री श्री जय प्रकाश निषाद भी साथ में थे। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री जी से इसका उद्घाटन करने के लिए अनुरोध किया गया है।

इस अवसर पर आयोजित समारोह में कृषि मंत्री ने कहा कि कृषि कुम्भ में किसानों की आय दो गुना करने एवं कृषि विकास समृद्धि के लिए प्रधानमंत्री की प्रेरणा से ही इसका आयोजन प्रदेश में पहली बार किया गया है, जिसमें लगभग एक लाख किसान भाग लेंगे। इसमें कृषि विभाग के साथ ही पशुपालन, मत्स्य, उद्यान एवं अन्य सहवर्ती विभाग भी सहयोग प्रदान कर रहें है तथा इसमें कृषि विभाग के साथ-साथ मण्डी परिषद अहम भूमिका निभा रहा है। उन्होंने कहा कि इसमें हरियाणा और झारखण्ड राज्य ने भी पार्टनर स्टेट के रूप में भाग लेने की सहमति प्रदान कर दी है।

कृषि मंत्री ने बताया कि खेती-किसानी में महिलाओं की महत्वपूर्ण भूमिका को देखते हुए आगामी 15 अक्टूबर को सभी जिलों में ‘‘राष्ट्रीय किसान महिला दिवस’’ मनाया जाएगा तथा इस अवसर पर मेले एवं गोष्ठियों का आयोजन होगा, जिसमें खेती-किसानी आदि से जुड़ी महिलाएं भाग लेंगी तथा उन्हें कृषि से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारियां दी जाएंगी।

श्री शाही ने बताया कि इस कृषि कुम्भ में विशेषज्ञ कृषि वैज्ञानिकों के साथ-साथ प्रगतिशील किसान तथा कृषि विश्वविद्यालयों के छात्र आदि भी प्रतिभाग करेंगे, जिनके लिए कृषि कार्यशालाएं एवं सेमिनार की आयोजित किए जाएंगे। इसमें कृषि विशेषज्ञ वैज्ञानिक जैविक खेती, खाद्य प्रसंस्करण, कृषि में विविधिकरण, आधुनिक कृषि यंत्र के प्रयोग, फसल अवशेष के सुदपयोग आदि के विषय में तकनीकी एवं व्यवहारिक जानकारी देंगे। इस मेले में नर्सरी एवं कृषि रक्षा, सूक्ष्म सिंचाई, फूलों की खेती एवं बागवानी, सोलर पम्प, कृषि बीज आदि विषयक विभिन्न प्रकार की प्रदर्शनियां किसानों को देखने के लिए मिलेंगी।

इस अवसर पर प्रमुख सचिव कृषि श्री अमित मोहन प्रसाद, विशेष सचिव कृषि श्री प्रशान्त शर्मा एवं जी0एस0 नवीन कुमार, मण्डी निदेशक श्री रमाकान्त पाण्डे, कृषि निदेशक श्री सोराज सिंह, भारतीय गन्ना अनुसंधान संस्थान के अधिकारी एवं अन्य गणमान्य व्यक्ति भी उपस्थित थे।



Comments

CAPTCHA code

Users Comment