ब्यूरो

नई दिल्ली.  नजदीक और दूर के उपभोक्ताओं विशेषकर विभिन्न कालोनियों, कालेज कैम्पस तथा कन्टोन्मेंट आदि में पहुंच के मद्देनजर के वी आई सी की अध्यक्ष कुमुद जोशी की उपस्थिति में सूक्ष्म, लघु और मझौले उद्यम मंत्रालय में राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) दिनशा पटेल द्वारा एक आकर्षक चलती-फिरती विक्रय वैन रवाना की गयी।

 पर्यावरण अनुकूल हरबल उत्पाद, रेडीमेड परिधान, हेल्थ फूड, दस्तकारी तथा पेपर की हस्तनिर्मित वस्तुएं आदि चलती फिरती विक्रय वैन के जरिये प्रदर्शित की जायेंगी तथा बेंची जायेंगी जो खादी और ग्रामोद्योग क्षेत्र के खादी और ग्रामोद्योगों को बढावा देने वाली चलती फिरती वैन होगी।

 खादी और ग्रामोद्योग आयोग (KVIC) खादी और ग्रामोद्योग के जरिये देश में ग्रामीण रोजगार का सृजन कर रहा है। 17,000,00 करोड़ रुपये से अधिक के उत्पाद का उत्पादन करते हुए खादी और ग्रामोद्योग में एक करोड़ से भी ज्यादा लोग संलग्न हैं।

 खादी और ग्रामोद्योग उत्पाद पर्यावरण अनुकूल और अपने प्राकृतिक आधार के कारण अपनी भारी मांग बनाये हुए हैं। देश में 7050 बिक्री केन्द्र हैं जो 22620.00 करोड़ रुपये की कीमत के अपने उत्पादों की प्रतिवर्ष विक्री संवर्धन के लिए केवीआईसी द्वारा आयोजित लगभग 200 प्रदर्शनियों के साथ-साथ खादी और ग्रामोद्योग उत्पादों की बिक्री करते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here