Sunday, February 23rd, 2020

खंडूरी ही मुख्यमंत्री रहेंगे

अश्विनी शर्मा देहरादून (उत्तराखंड).  उत्तराखंड में लोकसभा चुनाव में सूपड़ा साफ़ होने के बाद प्रदेश भाजपा में उठे असंतोष के कारण मुख्यमंत्री भुवनचंद्र खंडूरी ने अपना इस्तीफा दे दिया था, पर भाजपा के पर्यवेक्षकों मुख्तार अब्बास नकवी और थावरचंद गहलोत ने वहां मौजूद सभी विधायकों और भाजपा की सहयोगी पार्टी से बात करने के बाद अपनी समीक्षा रिपोर्ट पार्टी आला कमान को सौंप दी और आला कमान ने इस रिपोर्ट पर विस्तार से चर्चा करने के बाद भुवनचंद्र खंडूरी को ही उत्तराखंड का मुख्यमंत्री बनाए रखना उचित समझा. गौरतलब है कि उत्तराखंड में भाजपा ने तत्कालीन प्रदेश अध्यक्ष भगत सिंह कोश्यारी के नेतृत्व में विधानसभा चुनाव लड़ा था और कोशारी ने तत्कालीन सत्ताधारी पार्टी कांग्रेस को सत्ता से बाहर कर प्रदेश में भाजपा की सत्ता का रास्ता साफ़ कर दिया था, पर पार्टी आला कमान ने कोश्यारी की जगह भुवनचंद्र खंडूरी को मुख्यमंत्री बना दिया था. इसी वजह से प्रदेश भाजपा में भारी असंतोष पैदा हो गया था और एक समय में हालात ऐसे पैदा हो गए कि पार्टी आला कमान ने कोश्यारी को राज्यसभा देकर दिल्ली में ला बैठाया. इसके बावजूद भी प्रदेश भाजपा कार्यकर्ता खंडूरी के खिलाफ अपना असंतोष ज़ाहिर करते रहे और इसी असंतोष के कारण भाजपा को लोकसभा चुनाव में करारी शिकस्त का सामना करना पड़ा.

Comments

CAPTCHA code

Users Comment

hypotheek, says on August 13, 2010, 2:59 PM

Bereken zelf uw hypotheek. Hypotheek berekenen? Maak snel een indicatieve berekening van het maximale leenbedrag van uw hypotheek.