Wednesday, February 19th, 2020

क्लीन स्कूल ग्रीन स्कूल योजनान्तर्गत कार्यवाही में शीघ्रता की जाय : बलराम यादव

BalramYadavआई एन वी सी न्यूज़ लखनऊ, प्रदेश के माध्यमिक शिक्षा मंत्री बलराम यादव की अध्यक्षता में प्रथम विभागीय अधिकारियों की समीक्षा बैठक सचिवालय स्थित सभागार में आयोजित की गयी । बैठक के आरंभ में प्रमुख सचिव माध्यमिक शिक्षा जीतेन्द्र कुमार द्वारा विभाग के समस्त अधिकारियों से परिचय कराते हुए विभागीय क्रियाकलापों से अवगत कराया गया । इस अवसर पर प्रदेश के माध्यमिक शिक्षा मंत्री ने माध्यमिक शिक्षा में शिक्षा में गुणवत्ता संर्वधन के लिए शिक्षकों के रिक्त पदों को भरे जाने की कार्यवाही प्रमुखता से किये जाने एवं  विद्यालयों का संघन निरीक्षण किये जाने के निर्देश दिए। उन्होने कहा कि माध्यमिक शिक्षा परिषद की वर्ष 2016 की परीक्षा हेतु परीक्षा केन्द्रों के निर्धारण एवम् परीक्षा संचालन में पारदर्शी व्यवस्था अपनायी जाय । माध्यमिक शिक्षा के अन्तर्गत जिन विद्यालय भवनों का निर्माण किया जा रहा है वह गुणवत्तापूर्ण एवम् मानकानुसार है या नहीं, इसका निरीक्षण कराया जाय। जनपद आजमगढ़ में तेरही में निर्मित माॅडल स्कूल का निरीक्षण करा लिया जाय। बैठक में उपस्थित राज्य मंत्री माध्यमिक शिक्षा श्री विजय बहादुर पाल ने कहा कि हमें दूसरों के दोष गिनाने से ज्यादा जरूरी है कि हम अपना सम्पूर्ण ध्यान माध्यमिक शिक्षा में उत्रोत्तर सुधार में लगायें। पहले क्या हुआ और कौन जिम्मेदार है, यह सब बातें करने से बेहतर है कि हम सौंपे गये दायित्व का भलीभांति निर्वहन करें। माध्यमिक शिक्षा मंत्री श्री बलराम यादव ने बैठक को संबोधित करते हुए राजकीय विद्यालयों में अवस्थापना सुविधाआंें के विकास के लिए आवश्यक कार्यवाही किए जाने हेतु निर्देशित किया। उन्होने कहा कि क्लीन स्कूल ग्रीन स्कूल योजनान्तर्गत कार्यवाही में शीघ्रता की जाय। माध्यमिक शिक्षा मंत्री ने कहा कि कार्यप्रणाली में सुधार कर छात्र-छात्राओं के शैक्षिक स्तर को बेहतर बनाने के हर संभव प्रयास किये जायें ताकि हर छात्र को शिक्षा आसानी से प्राप्त हो सके। अपने निर्देश में श्री यादव ने कहा कि शिक्षा निदेशक द्वारा जनपद एवम् मण्डलों से यह जानकारी प्राप्त की जाय कि शैक्षिक सत्र 2015-16 में कुल कितने कार्यदिवस शिक्षण कार्य कराया गया है और शैक्षिक सत्र 2015-16 में छात्रों का अपै्रल-मई माह में कुल कितने प्रतिशत प्रवेश हुआ है तथा जुलाई-अगस्त माह में कुल कितने प्रतिशत छात्र-छात्रों ने दाखिला लिया है। बैठक के अन्त में प्रमुख सचिव माध्यमिक शिक्षा द्वारा यह आश्वस्त किया गया कि जो निर्देश दिये गये है,ं उनका विभागीय अधिकारियों द्वारा अनुपालन किया जायेगा। बैठक में श्री विजय बहादुर पाल मा0 राज्य मंत्री, माध्यमिक शिक्षा, श्री जितेन्द्र कुमार, प्रमुख सचिव, माध्यमिक शिक्षा, श्री गिरजा शंकर त्रिवेदी, विशेष सचिव, माध्यमिक शिक्षा, श्री दीनानाथ गुप्ता, विशेष सचिव तथा श्री अमर नाथ वर्मा, शिक्षा निदेशक(मा0) एवम् शिक्षा निदेशालय के समस्त अधिकारी, तथा प्रदेश के सभी मण्डलीय संयुंक्त शिक्षा निदेशकों द्वारा प्रतिभाग किया गया।

Comments

CAPTCHA code

Users Comment