Close X
Tuesday, June 22nd, 2021

कोरोना से निपटने हेतु हर प्रयास जारी

आई एन वी सी न्यूज़
भोपाल,
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि कोरोना संकट से निपटने के लिए सरकार हर संभव प्रयास कर रही है, परंतु बिना जनता के सक्रिय सहयोग के हम इस लड़ाई को नहीं जीत पाएंगे। कोरोना संक्रमण को समाप्त करने के लिए हर व्यक्ति को जागरूक करना आवश्यक है। हर व्यक्ति को यह समझना होगा कि मास्क लगाना, 2 गज की दूरी रखना, बार-बार हाथों को धोना तथा जब-तक कोरोना संक्रमण समाप्त नहीं हो जाता, तब-तक बिना आवश्यक काम के घर से बाहर न निकले।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि यह खुशी की बात है कि मध्यप्रदेश में कोरोना वालेंटियर के रूप में 92 हजार से अधिक लोगों ने अपना पंजीयन कराया है। ये सभी इस संकट की घड़ी में लोगों की सेवा करने के लिए जी-जान से तैयार हैं। मुझे विश्वास है कि यह वॉलेंटियर्स सेना चमत्कार करेगी तथा शीघ्र ही प्रदेश कोरोना संकट से बाहर निकलेगा।

मुख्यमंत्री श्री चौहान आज मंत्रालय में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से कोरोना वॉलेंटियर्स तथा जन अभियान परिषद के सदस्यों से बातचीत कर रहे थे। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में चिकित्सा शिक्षा मंत्री श्री विश्वास सारंग, उज्जैन से जन अभियान परिषद के उपाध्यक्ष श्री विभास उपाध्याय, और जिले के एनआईसी कक्ष से जन अभियान परिषद के सदस्य, कोरोना वॉलेंटियर सम्मिलित हुए।

1 दिन में पहले 26 सौ सर्वाधिक, अब 10 हजार
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि इस समय देश प्रदेश एवं दुनिया कोरोना संकट के भयावह दौर से गुजर रहे हैं। मध्यप्रदेश में पहले दौर में सितंबर माह में सर्वाधिक 2600 प्रकरण 1 दिन में आए थे, अब 10 हजार प्रकरण आ रहे हैं। सरकार युद्ध स्तर पर व्यवस्थाएँ कर रही है। पिछले 5 दिनों में प्रदेश में 16 सौ बिस्तर बढ़ाए गए हैं। प्रत्येक जिले में कोविड केयर सेंटर बनाए गए हैं। पर्याप्त रेमडेसिविर इंजेक्शन एवं ऑक्सीजन की व्यवस्था की जा रही है। ऑक्सीजन के छोटे-छोटे प्लांट लगाए जा रहे हैं।

चार स्तर पर कार्य करें कोरोना वॉलेंटियर
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कोरोना वॉलेंटियर्स मुख्य रूप से चार स्तरों पर कार्य करें। पहला- कोरोना संबंधी उपचार में लोगों की मदद करना, उनकी जाँच करवाना उन्हें अस्पताल पहुँचाना। दूसरा- 45 वर्ष की आयु के हर व्यक्ति को वैक्सीनेशन के लिए प्रेरित करना, उन्हें वैक्सीनेशन केंद्रों पर ले जाना तथा वैक्सीनेशन केंद्रों पर व्यवस्थाओं में सहयोग करना। तीसरा- जनता को मास्क पहनने, 2 गज की दूरी रखने आदि कोरोना संबंधी सावधानियों का पालन करने के लिए जागरूक करना। चौथा- जनता को इस बात के लिए प्रेरित करना कि वे अपने गली, मोहल्ले, वार्ड, ग्रामीण क्षेत्र में स्व-प्रेरणा से कर्फ्यू लगाएँ तथा घर से बाहर न निकलें।

अपना ध्यान भी रखें कोरोना वॉलेंटियर
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कोरोना वॉलेंटियर्स कोरोना मरीजों की सेवा करते समय स्वयं का भी पूरा ध्यान रखें। बिना पीपीई किट पहने किसी कोरोना मरीज से न मिलें। पूरे प्रयास करें कि हम खुद भी संक्रमित न हो और अपने परिवार को भी संक्रमित न होने दें।

Comments

CAPTCHA code

Users Comment