आई एन वी सी न्यूज़
रोहतक,
दिल्ली  के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल के बढ़ते कद से भाजपा सरकार बौखला गई है । हरियाणा में पुरानी पेंशन बहली की मांग कर रहे कर्मचारियों की 7 अक्टूबर को करनाल में हो रही रैली रदद् करवाने के लिए मुख्यमंत्री के कैंप ऑफिस में बुला कर न केवल डराया गया बल्कि इसे रदद् करने को कहा गया ए  इनका कसूर सिर्फ इतना था कि दिल्ली मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल बतौर मुख्यातिथि बुलाया था । आखिरी मौके पर जिस तरह से सभी तैयारियों के बाद प्रोग्राम कैंसिल कर दिया गया उसे आप हरियाणा  प्रदेशाध्यक्ष नवीन जयहिंद ने भाजपा की ओछी राजनीति बताते हुए कहा कि हरियाणा में बढ़ते कद से घबरा गई है । जयहिंद ने कहा कि संघर्ष समिति के सदस्यों  करनाल सीण्एम हाउस से सरकार ने डराया दृधमकाया है जिसके दबाव के चले संघर्ष समिति अपना प्रोग्राम ही कैंसिल कर दिया ।

जयहिंद के कहा कि केजरीवाल जी व उन्होंने खुद संघर्ष समिति के सदस्यों से बात की है और कर्मचारियों ने फ़ोन पर भाजपा सरकार द्वारा रची गई  पूरी साजिश को बतया  । कर्मचारियों ने बताया कि करनाल सी एम् ऑफिस से  संघर्ष समिति के सदस्यों पर 7 अक्टूबर के कार्यक्रम में अरविन्द केजरीवाल को न बुलाने का दबाव बनाया गया जिसके चलते कार्यक्रम को ही रदद् कर दिया गया लेकिन यह  कार्यक्रम फिर से जल्द किया जायेगा व मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल जी मुख्यातिथि के रूप में आमंत्रित रहेंगे ।

जयहिंद ने कहा कि आम आदमी पार्टी और केजरीवाल जी पेंशन मुद्दे पर कर्मचारियों के साथ और कर्मचारियों का समर्थन करती है ।



LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here