विजय सिन्हा

नई दिल्ली. केंद्रीय गृह मंत्री पी. चिदम्बरम ने गोवा शिपयार्ड लिमिटेड तथा गार्डन रीच शिपबिल्डर्स एंड इंजीनियर्स लिमिटेड के मुख्य प्रबंध निदेशकों के साथ तेज चलने वाली अवरोधक (इंटरसेप्टर) नौकाओं की आपूर्ति की समीक्षा की।

चिदम्बरम ने कहा कि इन नौकाओं की आपूर्ति अप्रैल 2009 में शुरू हुई थी और अब तक तेरह नौकाएं गुजरात, महाराष्ट्र, कर्नाटक, आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु, ओडिशा, गोवा, लक्षद्वीप और पुडुचेरी को दी गई हैं। उन्होंने  समय पर इन नौकाओं की आपूर्ति पर बल दिया। उन्होंने इन नौकाओं के उचित संचालन के लिए प्रशिक्षण तथा प्रशिक्षित व्यक्तियों पुलिस कर्मियों एवं चालक दल की तैनाती को भी आवश्यक बताया।

 उन्होंने अंतर्राष्ट्रीय सीमा खासकर चीन और बंगलादेश सीमा पर बाड़ लगाने, सड़क निर्माण, प्रकाश व्यवस्था, सीमा चौकियों के निर्माण आदि मामलों की समीक्षा के लिए आज यहां केन्द्रीय लोक निर्माण विभाग के महानिदेशक तथा राष्ट्रीय भवन निर्माण निगम, रेल इंडिया तकनीकी एवं आर्थिक सेवाएं, इंजीनियरिंग प्रोजेक्ट्स (इंडिया), लिमिटेड तथा इंजीनियर्स इंडिया लिमिटेड के मुख्य कार्यकारी अधिकारियों  मुख्य प्रबंध निदेशकों के साथ बैठक की। उन्होंने सभी परियोजनाएं न केवल समय पर पूरा करने बल्कि उनमें गुणवत्ता सुनिश्चित करने और तीसरे पक्ष द्वारा परीक्षण लेखा परीक्षा पर भी बल दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here