Close X
Wednesday, January 19th, 2022

किसानो को निकालेंगे दुःख की घड़ी से पार

आई एन वी सी न्यूज़
भोपाल,
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि बेमौसम हुई बारिश और ओलावृष्टि से प्रभावित हुए किसानों को इस दुख की घड़ी में संकट के पार निकालेंगे। फसलों को हुए नुकसान की राहत राशि एवं बीमा राशि का किसानों को शीघ्र भुगतान करवाया जाएगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने शुक्रवार को अशोकनगर जिले की तहसील मुंगावली के ग्राम बजावन में  प्रभावित फसलों का निरीक्षण कर रहे थे।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने किसानों से संवाद करते हुए कहा कि संकट की इस घड़ी में किसानों के दुख दर्द में शामिल होने के लिए ग्राम बजावन में आया हूँ। मैं किसानों की परेशानी को भली भांति जानता हूँ। किसान अपने पसीने से फसलों को सींचता है, तभी अन्न का दाना मिल पाता है। इसी बीच यदि फसलों पर प्राकृतिक आपदा का कहर बरसता है तो फसलें चौपट हो जाती हैं। इससे किसानों के सपने चकनाचूर हो जाते हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि फसलों को जो नुकसान पहुँचा है, उसकी भरपाई राहत राशि तथा बीमा राशि दिलाकर पूरी की जाएगी। उन्होंने कमिश्नर एवं कलेक्टर को निर्देश दिये कि फसलों के नुकसान के सर्वे का कार्य 18 जनवरी तक पूर्ण कराया जाए। सर्वे का कार्य पूरी ईमानदारी और पारदर्शिता के साथ हो। सर्वे उपरांत सूची पंचायतों में लगाई जाए, जिससे संबंधित किसान भी अवगत हो सकें। यदि किसी को आपत्ति हो तो उसका निराकरण किया जा सके। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि जिन किसानों का 50 प्रतिशत से ज्यादा नुकसान हुआ है, उन किसानों को 30 हजार रूपये प्रति हेक्टेयर राहत राशि दिलाई जाएगी। साथ ही फसल बीमा में फसलों को नुकसान हुआ है उसमें 25 प्रतिशत एडवांस राशि तथा शेष 75 प्रतिशत राशि फसल आकलन के उपरांत दिलाई जाएगी। उन्होंने कहा कि मैंने स्वयं खेतों में जाकर फसल नुकसानी का जायजा लिया है।

हजारीलाल की गेहूँ की फसल का लिया जायजा
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कृषक हजारीलाल के खेत में गेहूँ की फसल का अवलोकन किया। कृषक हजारीलाल ने बताया कि ओलावृष्टि से फसल को काफी नुकसान हुआ है। साथ ही मेरी बेटी की शादी अगले माह होना तय हुई है। मैं बहुत परेशान हूँ। इस पर मुख्यमंत्री श्री चौहान ने पीड़ित कृषक को दिलासा दिलाते हुए कहा कि बिटिया की शादी है तो उसका भी इंतजाम हम करवाएंगे, जिससे बेटी की शादी में कोई दिक्कत न आए। इसकी बिल्कुल भी चिंता न करें।

राजकुमारी बाई को बँधाया ढांढस
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कृषक राजकुमारी बाई के खेत में पहुँचकर सरसों की फसल के नुकसानी का जायजा लिया। फसल नुकसान से दुखी कृषक राजकुमारी बाई को मुख्यमंत्री ने ढांढस बधाते हुए अपने कंधे से लगाकर भरोसा दिलाया कि जो नुकसान हुआ है उसकी भरपाई की जाएगी।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने ग्रामीणों से कहा कि कोविड-19 की तीसरी लहर के संकट को देखते हुए गाँव में सभी का टीकाकरण करवायें और मास्क लगाकर रहें। कोविड की तीसरी लहर आ गई है, उससे भी हम सभी को बचाव एवं सावधानी बरतना जरूरी है। सभी ग्रामीणजन कोविड अनुकूल व्यवहार एवं गाईडलाईन का पालन करें।

ऊर्जा एवं जिले के प्रभारी मंत्री श्री प्रद्युम्न सिंह तोमर, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी राज्य मंत्री श्री बृजेंद्र सिंह यादव, सांसद डॉ. के.पी. यादव, अशोकनगर विधायक श्री जजपाल सिंह जज्जी, पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक कल्याण उपाध्यक्ष श्री अजय प्रताप सिंह यादव, कमिश्नर श्री आशीष सक्सेना, कलेक्टर श्रीमती आर. उमामहेश्वरी, पुलिस अधीक्षक श्री रघुवंश सिंह भदोरिया सहित संबंधित अधिकारी जन-प्रतिनिधि तथा ग्रामीणजन उपस्थित थे।

Comments

CAPTCHA code

Users Comment