आई एन वी सी न्यूज़
लखनऊ,
उत्तर प्रदेश के कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही द्वारा आज प्रदेश में संचालित प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना एवं पुर्नगठित मौसम आधारित फसल बीमा के प्रगति की समीक्षा की गयी। मंत्री जी को अवगत कराया गया कि खरीफ 2021 मौसम के अर्न्तगत मध्य अवस्था में प्राकृतिक आपदाओं के कारण फसलों को हुई क्षति के परिप्रेक्ष्य में प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अन्तर्गत बीमित कुल 1.24 लाख कृषकों के मध्य रूपये 74.35 करोड़ की क्षतिपूर्ति की धनराशि का ऑकलन वितरण हेतु किया गया है। योजनान्तर्गत बीमा कम्पनियों को राज्यांश के रूप में 283.00 (दो सौ तिरासी) करोड़ रूपये की धनराशि उपलब्ध करायी जा चुकी है। कृषि मंत्री ने निर्देश देते हुये कहा कि चूंकि राज्यांश की धनराशि बीमा कंपनियों को अवमुक्त की जा चुकी है, ऐसी स्थिति में किसानों को उनकी फसल क्षतिपूर्ति के भुगतान में किसी प्रकार की कोई समस्या नहीं होनी चाहिए।

शाही आज विधान भवन स्थित अपने कार्यालय कक्ष में प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की प्रगति समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने बैठक में उपस्थित सभी बीमा कम्पनियों के अधिकारियों एवं विभागीय अधिकारियों को निर्देशित किया गया कि क्षतिपूर्ति का वितरण प्रत्येक दशा में माह नवम्बर, 2021 के अन्तिम सप्ताह तक पूर्ण रूप से कर दिया जाय। उन्होंने निर्देश दिये कि जनपदों में अधिसूचित फसलों पर क्राप-कटिंग प्रयोग प्राथमिकता पर सम्पन्न करायें। साथ ही किसान की क्रॉप कटिंग के समय की फोटोग्राफ अवश्य उपलब्ध करायें। क्रॉप कटिंग प्रयोगों के आधार पर क्षति का ऑकलन शीघ्र कराते हुए बीमित कृषकों को क्षतिपूर्ति के वितरण की कार्यवाही समयान्तर्गत करायी जाय। बीमा कंपनियों द्वारा किये गये आकलन का वेरिफिकेशन जनपदीय उप कृषि निदेशक द्वारा किया जाये, ताकि किसानों को उनकी क्षतिपूर्ति का वास्तविक भुगतान शीघ्रातिशीघ्र सुनिश्चित किया जा सके।

बैठक में अपर मुख्य सचिव कृषि, डॉ0 देवेश चतुर्वेदी, विशेष सचिव कृषि, श्री बृजराज सिंह यादव, निदेशक सांख्यिकी, श्री राजेश गुप्ता एवं बीमा कम्पनियों के अधिकारीगण उपस्थित थे।  

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here