काटजू आरोप- पीआईएल दायर, डीएमके की मान्यता रद्द की मांग

0
47

Justice Markandey Katju.आई एन वी सी ,

लखनऊ ,
इलाहाबाद हाई कोर्ट के लखनऊ बेंच में जस्टिस मार्कंडेय काटजू द्वारा लगाए गए गंभीर आरोपों के सम्बन्ध में सामाजिक संगठन पीपल्स फोरम द्वारा एक जनहित याचिका (पीआईएल) दायर किया गया है. इसकी सुनवाई 29 जुलाई (मंगलवार) को होगी.

संस्था की कन्वेनर डॉ नूतन ठाकुर के अनुसार पीआईएल में जस्टिस काटजू के आरोपों की एक उच्चस्तरीय स्पेशल इन्वेस्टीगेशन टीम (एसआईटी) द्वारा जांच कराये जाने और इसके अनुसार दोषी पाए गए पूर्व सुप्रीम कोर्ट जजों पर आवश्यक कार्यवाही करने की प्रार्थना की गयी है. साथ ही आरोप सही पाए जाने पर डीएमके पार्टी की मान्यता निरस्त करने की प्रार्थना है.

पीआईएल में वर्तमान समय में भारत के मुख्य न्यायाधीश के तहत जजों के खिलाफ शिकायत की इन-हाउस जांच की व्यवस्था को अपारदर्शी और अपने उद्देश्यों की प्राप्ति में पूरी तरह नाकामयाब बताते हुए उच्चतर न्यायालय के जजों के विरुद्ध भ्रष्टाचार और दुर्व्यवहार की शिकायत हेतु अलग से प्रशासनिक व्यवस्था की भी प्रार्थना की गयी है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here