Wednesday, December 11th, 2019

कांग्रेस मोदी सरकार के खिलाफ करेगी देशव्यापी विरोध प्रदर्शन

एआईसीसी महासचिव केसी वेणुगोपाल ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष ने गुजरात प्रदेश कांग्रेस कमेटी के पदाधिकारियों और कार्यकारी समिति के पैनल को भंग करने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है. पीसीसी अध्यक्ष अपरिवर्तित रहेगा.
कांग्रेस ने बुधवार को अपनी गुजरात इकाई भंग कर दी. हालांकि पीसीसी प्रमुख अमित चावड़ा को फिलहाल पद पर बने रहने के लिए कहा गया है. एआईसीसी महासचिव संगठन केसी वेणुगोपाल ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने गुजरात प्रदेश कांग्रेस कमेटी के पदाधिकारियों और कार्यकारी समिति के पैनल को भंग करने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है. वहीं पीसीसी अध्यक्ष अपरिवर्तित रहेगा. सूत्रों के मुताबिक पार्टी की गुजरात इकाई को फिर से बनाया जाएगा और जल्द ही एक नए निकाय का गठन किया जाएगा.

केसी वेणुगोपाल ने बताया कि कांग्रेस पार्टी आर्थिक नीतियों और केंद्र में नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली बीजेपी सरकार के फैसलों के खिलाफ देशव्यापी विरोध और आंदोलन शुरू करेगी.

मोदी सरकार के खिलाफ कांग्रेस करेगी आंदोलन

कांग्रेस बेरोजगारी, आर्थिक मंदी, आवश्यक वस्तुओं की कीमतों में वृद्धि, बैंकिंग प्रणाली में गिरावट और किसानों के संकट जैसे मुद्दों को उजागर करने के लिए पांच नवंबर से देशव्यापी विरोध प्रदर्शन शुरू करेगी. कांग्रेस महासचिव के. सी. वेणुगोपाल ने कहा कि विरोध प्रदर्शन आम लोगों की दुर्दशा को उजागर करेगा. पार्टी केंद्र में नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) सरकार की जनविरोधी आर्थिक नीतियों और फैसलों का विरोध करेगी.

वेणुगोपाल ने कहा कि राष्ट्रव्यापी प्रदर्शन जिला स्तर और राज्य की राजधानी स्तर पर 5 से 15 नवंबर तक आयोजित किया जाएगा और इसका समापन नई दिल्ली में सरकार के खिलाफ विशाल रैली के साथ होगा.
यह फैसला कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी की अध्यक्षता में 12 और 13 सितंबर को हुई वरिष्ठ नेताओं की बैठक में लिया गया. इससे पहले यह कार्यक्रम 15 से 25 अक्टूबर के बीच निर्धारित किया गया था. इस कार्यक्रम को विधानसभा चुनावों की वजह से टाला गया. PLC

Comments

CAPTCHA code

Users Comment