आई.एन.वी.सी,,
लखनऊ,,
समाजवादी पार्टी के प्रदेष अध्यक्ष श्री अखिलेष यादव ने आज कांग्रेस और बसपा पर सीधा प्रहार करते हुए कहा कि मंहगाई और भ्रश्टाचार बढ़ाने में दोनों की मिलीभगत है। इन्हें आम आदमी की खुषहाली अच्छी नहीं लगती है। हर वर्ग इनसे त्रस्त है। इसलिए आगामी विधान सभा चुनावों में बसपा को हटाना है और समाजवादी पार्टी की सरकार बनाना है।  समाजवादी क्रान्तिरथ से यात्रा के पांचवें चरण में दूसरे दिन आज पीलीभीत से चलकर बरखेड़ा, बीसलपुर, फरीदपुर, बरेली छावनी में आयोजित जनसभाओं को सम्बोधित करते हुए श्री यादव ने कहा कि कांग्रेस ने बड़ी होषियारी से घोटाले किए है और अरबों रूपयों का चूना लगाया है। उनके घोटाले टूजी स्पेक्ट्रम, कामनवेल्थ खेल घोटाले को तो गरीबों और आम आदमियों को समझाया भी नहीं जा सकता है। कांग्रेस बहुत बड़ी धोखेबाज है। बसपा ने प्रदेष में संगठित भ्रश्टाचार फैलाया है। पत्थरों, पार्को, स्मारकों पर जनता की गाढी कमाई लुटाई है। आज भी मुख्यमंत्री नोएडा में छःहजार  करोड़ रूपयों से अधिक की योजनाओं का लोकार्पण करने जा रही है। जिन महापुरूशों का यहां के लोग नाम भी नहीं जानते हैं उनकी मूर्तियों पर धन लुटाया जा रहा है। इनके साथ मुख्यमंत्री की भी मूर्तियां लगी है। किसी जिन्दा नेता की मूर्ति लगने का यह अजीब वाकया है।  उन्होने कहा राज्य की राजधानी में लूट और हत्याओं का बोलबाला है। दो सीएमओ एक डिप्टी सीएमओ मारे गए। जेल में डा0 सचान की हत्या को छुपाया जाता रहा। परिवार कल्याण के  बजट में भारी घोटाला किया गया।  श्री यादव ने स्पश्ट कहा कि जिन मंत्रियों, विधायकों को मुख्यमंत्री ने सरकार और पार्टी से हटाया है, वह उनके पाप की सजा नहीं है। बसपा के काले कारनामों में संलिप्त अधिकारी और मंत्री चाहे जितने बड़े हो, बचेगंे नहीं। समाजवादी पार्टी की सरकार बनने पर उनके खिलाफ कड़ी कार्यवाही होगी।  श्री अखिलेष यादव का आज जगह-जगह भव्य स्वागत हुआ। नौजवानों ने उनके रथ के साथ दौड़ लगाई तो तपती धूप में भी उन्हें सुनने के लिए भीड़ घंटो  इंतजार करती रही। उनके भाशण के बीच खूब तालियां बजी और उनके जिन्दाबाद के जोषीले नारे लगे। श्री यादव आज रात्रि विश्राम बरेली में करेगें और कल बरेली से चलकर देवचरा, आंवला, कुॅवरगांव, बदायूॅ, दातागंज क्रांतिरथ से जाएगें। वापसी में बदायूॅ में रात्रि विश्राम करेगें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here