Wednesday, October 23rd, 2019
Close X

कांग्रेस के ध्वस्त संगठन के विकास विरोधी नीतियों के संरक्षण एवं संगठन के नेतृत्व की विफलता को छुपाने के लिए नरेन्द्र मोदी का सहारा ले रही है : स्मृति ईरानी

Smriti Zubin Irani,Smriti  Iraniआई एन वी सी न्यूज़ नई दिल्ली, भाजपा की वरिष्ठ नेत्री एवम केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री श्रीमती स्मृति ईरानी ने आज कांग्रेस अध्यक्षा श्रीमती सोनिया गांधी द्वारा कांग्रेस वर्किंग कमिटी की बैठक में केंद्र की मोदी सरकार पर किये गए हमले का करारा जवाब दिया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस अध्यक्षा श्रीमती सोनिया गांधी कांग्रेस के ध्वस्त संगठन के विकास विरोधी नीतियों के संरक्षण एवं संगठन के नेतृत्व की विफलता को छुपाने के लिए श्री नरेन्द्र मोदी का सहारा ले रही है। उन्होंने कांग्रेस अध्यक्षा श्रीमती सोनिया गांधी के इस आरोप को सिरे से खारिज कर दिया कि केंद्र की मोदी सरकार विकास को धरातल पर उतारने में असफल रही है। श्रीमती स्मृति ईरानी ने कांग्रेस पर पलटवार करते हुए कहा कि जिस कांग्रेस ने अपने हाथ की सफाई से देश की तिजोरी खाली कर दी, जिस कांग्रेस ने अपने हाथ की सफाई से देश के संसाधनों का हर तरह से दोहन करने का काम किया, आज वह 'सबका साथ, सबका विकास' के सिद्धांत पर काम करने वाले और देश को विकास के पथ पर अग्रसर करने वाले श्री मोदी जी की सरकार पर आरोप लगा रही है। उन्होंने राहुल गांधी की दिखावे की राजनीति पर तंज कसते हुए कहा कि जिस राहुल के अपने लोक सभा क्षेत्र में किसानों की जमीन गलत तरीके से राजीव गांधी ट्रस्ट के नाम पर हड़प ली गई, आज वह राहुल किसानों के हिमायती बनने की कोशिश कर रहे हैं। भूमि अधिग्रहण विधेयक पर कांग्रेस के झूठे आरोपों पर प्रहार करते हुए श्रीमती ईरानी ने कहा कि कांग्रेस ने तो अपने भूमि अधिग्रहण क़ानून में से 13 गंभीर क्षेत्र को दरकिनार कर दिया था जो गरीबों के हित में थे, ये तो भाजपा की सरकार है जिसने उन प्रमुख बिन्दुओं को फिर से इस कानून में जोड़ा और गरीबों एवम किसानों के हित को सुरक्षित रखा।  उन्होंने कहा कि देश की जनता ने भाजपा में अपना विश्वास व्यक्त करते हुए श्री नरेन्द्र मोदी जी को देश के विकास के लिए पूर्ण जनादेश दिया लेकिन कांग्रेस लगातार भाजपा सरकार द्वारा देश के विकास एवं प्रगति के लिए उठाये गए क़दमों पर झूठे और तथ्यविहीन आरोप लगाकर राजनीति कर रही है, लेकिन देश की जनता कांग्रेस के इस ढकोसले से पूर्णतया परिचित है। उन्होंने कहा कि देश की जनता कांग्रेस की झूठी असलियत समझती है और वह कांग्रेस के बहकावे में और आनेवाली नहीं है। कांग्रेस के जीरो लॉस की थ्योरी पर कटाक्ष करते हुए मानव संसाधन विकास मंत्री ने कहा कि जहां कांग्रेस कोल ब्लॉक और टूजी आवंटन में नुकसान को मानने के लिए तैयार ही नहीं थी वहीं भाजपा की सरकार ने कोल ब्लॉक के आवंटन से लगभग 3 लाख 35 हजार करोड़ तथा टूजी के आवंटन से लगभग 1 लाख 10 हजार करोड़ रुपये से ज्यादा की राशि देश के खजाने में जमा करने का कार्य किया।  उन्होंने कहा कि चाहे 'वन रैंक, वन पेंशन' का मामला हो या स्कूलों में शौचालय निर्माण का कार्य हो या ऐतिहासिक नागा समझौता हो, इस वर्तमान सरकार ने हर लटके हुए मुद्दों को सही तरीके से अपने अंजाम तक पहुंचाया है। उन्होंने कहा कि मैं कांग्रेस से पूछना चाहती हूँ कि यदि कांग्रेस हर सफलता का श्रेय खुद लेना चाहती है तो पिछले 60 सालों में कांग्रेस ने क्यों इन समस्याओं को अधर में लटके रहने दिया।  उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी के नेतृत्‍व में भाजपा-नीत राजग सरकार गरीबों, किसानों, महिलाओं और नौजवानों के विकास और कल्‍याण के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार के त्‍वरित फैसले, स्‍पष्‍ट और पारदर्शी नीतियों से देश की विकास दर 2014-15 में 7.4% हो गई,  जो उभरती अर्थव्यवस्थाओं में सर्वाधिक है। श्रीमती स्मृति ईरानी ने कहा कि मोदी सरकार गरीबों के लिए समर्पित है और प्रधानमंत्री जन धन योजना, अटल पेंशन योजना, प्रधानमंत्री बीमा सुरक्षा योजना व प्रधानमंत्री जीवन ज्‍योति योजना के माध्‍यम से गरीबों को आर्थिक सुरक्षा देने का काम कर रही है।  उन्होंने कहा कि सरकार ने एक ओर भारत के बुनियादी ढांचे के निर्माण के लिए हाइवे का निर्माण, रेलवे सुविधाएँ, बुलेट ट्रेन, भारत माला और सागरमाला परियोजना, बंदरगाहों का विकास, जल मार्ग विकास परियोजना तथा सांसद आदर्श ग्राम योजना जैसी परियोजनाओं पर खासा ध्यान दिया है और इसे त्वरित क्रियान्वयित भी किया जा रहा है वहीं दूसरी ओर सरकार ने मेक इन इंडिया, कौशल विकास, डिजिटल इंडिया, प्रधानमंत्री जन-धन योजना, प्रधानमंत्री जीवन बीमा और जीवन सुरक्षा बीमा आदि कई तरह के अभिनव और परिवर्तनात्‍मक कदम उठाये हैं जो भारत के सर्वांगीण विकास की दिशा में मील का पत्थर साबित होगा। कांग्रेस में राहुल गांधी के नेतृत्व पर पूछे गए एक प्रश्न के उत्तर में श्रीमती ईरानी ने कहा कि हालांकि ये कांग्रेस का अंदरूनी मामला है और उसे ही ये फैसला करना है कि वह कब और किसे अपना नेता चुनती है लेकिन लगता है कि राहुल गांधी के नेतृत्व के प्रति कांग्रेस में अभी भी पूर्ण विश्वास नहीं है।

Comments

CAPTCHA code

Users Comment