विजेता सिंह

मुंबई.  पिछले साल मुंबई में  हुए आतंकवादी हमले में अभियुक्त बना अजमल आमिर कसाब अपने इक़बालिया बयान से पलट गया है.  उसका कहना है कि पुलिस ने जबरन उससे बयान लिया है. 

मुंबई हमले का मुकदमा कल शुरू हुआ.  हमले के आरोपी अजमल कसाब सहित दो अन्य आरोपियों को अदालत में पेश किया गया था। सुनवाई के दौरान कसाब ने अपने इकबालिया बयान को वापस लेने की मांग की। बचाव पक्ष के अब्बास काज़मी ने दलील दी कि मुंबई हमले के वक़्त कसाब नाबालिग था। काज़मी ने अदालत को यह भी बताया कि पुलिस के दबाव में कसाब ने जुर्म कबूला था जिसे अब वह वापस लेना चाहता है। हालांकि अदालत ने इस मामले पर कोई फैसला तो नहीं दिया,  लेकिन उसके नाबालिग होने की दलील को ठुकरा दिया।
 
अभियोजन पक्ष का आरोप है कि कसाब और मारे गए आतंकियों को पाकिस्तान में सैनिक और खुफिया प्रशिक्षण दिया गया। गौरतलब है कि कसाब के मामले की सुनवाई पिछले बुधवार को शुरू हुई थी, लेकिन उसकी वकील अंजलि वाघमारे को अदालत ने ग़ैर पेशेवर रवैये की वजह से हटा दिया था और उसके बाद अब्बास क़ाज़मी को कसाब का नया वकील बनाया गया था.

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here