Close X
Monday, April 19th, 2021

कलैक्ट्रेट जनता की अपेक्षा का केन्द्र है : हरीश रावत

virbhadra singh  invc newsआई एन वी सी न्यूज़
देहरादून, हैलो वीडीओ साहब! वीडीओ साहब बोल रहे है! सर नमस्कार, मैं वीडीओ कालसी बोल रहा हूं। वीडीओ साहब नये वर्ष की बधाई हो, नये वर्ष में नया काम क्या हो रहा है। सर नये वर्ष में ‘मेरा गांव मेरी सड़क योजना‘ के तहत हमने 4 गांव मनरेगा और 4 गांव आर.ई.एस. के तहत चुने है। सीएम ने फिर कहा, आपको इस योजना के बारे में जानकारी मालूम है, न। इस योजना में क्षेत्र के एम.एल.ए. से भी बात कीजिए, उनका भी योजना में सहयोग लो। इस योजना के लिए सरकार भी सहयोग देगी। आप इसे और अच्छे से करो। क्षेत्र भ्रमण कर अधिक से अधिक गांवों को इससे लाभान्वित करें। मुख्यमंत्री हरीश रावत ने नव वर्ष के पहले दिन की शुरूआत कुछ इस अंदाज में की। बृहस्पतिवार को प्रातः 9.45 बजे मुख्यमंत्री सीधे कलैक्ट्रेट पहुंचे। कलैक्ट्रेट पहुंचकर मुख्यमंत्री ने एन.आई.सी. केन्द्र के स्वान केन्द्र के निरीक्षण के दौरान आई.फोन से किसी ब्लाॅक में बात कराने को कहा। इस पर स्वान केन्द्र में तैनात कर्मी द्वारा ब्लाॅक कालसी में फोन मिलाकर वीडीओ से बात कराई गई।  मुख्यमंत्री ने फोन मिलते ही वीडीओ कालसी बी.पी.खण्डूड़ी से योजनाओं की जानकारी पूछी, जिस पर उनके द्वारा बताया गया कि मेरा गांव मेरी सड़क योजना के तहत कालसी ब्लाॅक से 4 गांव मनरेगा और 4 गांव आर.ई.एस. के तहत चुने गये है। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस योजना में क्षेत्र के विधायकों का भी सहयोग ले। मुख्यमंत्री श्री रावत ने तय किया कि नव वर्ष के शुरूआती दौर में वे लगभग 26 जन अदालत लगाकर जनता की समस्याओं को सुनेंगे। इसकी शुरूआत जनवरी माह के इसी सप्ताह से कांडी गांव यमकेश्वर में स्वतंत्रता संग्राम सेनानी जगमोहन सिंह नेगी की मूर्ति का अनावरण करने के बाद से की जायेगी। मुख्यमंत्री ने कलैक्ट्रेट का निरीक्षण करते हुए डी.एम. को निर्देश दिये कि जनता से जुड़े मामलों पर शीघ्र कार्यवाही होनी चाहिए। शिकायर्ता द्वारा दर्ज कराई गई समस्या का समाधान होने के बाद उसे भी सूचित किया जाय। इसका स्थलीय निरीक्षण भी होना चाहिए। कलैक्ट्रेट स्थित जिला आपदा अधिकारी के कार्यालय के निरीक्षण के दौरान मुख्यमंत्री ने रजिस्टर में दर्ज शिकायतों को देखा। मुख्यमंत्री ने दर्ज शिकायत में से सहसपुर निवासी गुलफाम को फोन कर पूछा कि क्या उनकी शिकायत का समाधान हो गया है। जिस पर उसके द्वारा बताया गया कि अभी तक उसकी समस्या का समाधान नही हुआ है। इसी प्रकार कुछ अन्य लोगो से भी मुख्यमंत्री ने फोन कर पूछा। इसके बाद मुख्मयंत्री ने प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री को निर्देश दिये कि प्रत्येक जनपद में एक वरिष्ठ अधिकारी को जिम्मेदार सौपी जाय, जो महीने में कम से कम 10 दिन स्थलीय निरीक्षण कर समस्याओं के निस्तारण की प्रगति देखेंगे। यह भी निर्देश दिये कि दर्ज शिकायतों में हुई कार्यवाही का कम से कम 10 प्रतिशत डीएम, 20 प्रतिशत ए.डी.एम और शेष की जानकारी संबंधित शिकायतकर्ता से ली जायेगी। दर्ज शिकायत का निस्तारण केवल विभाग के कहने पर ही नही होना चाहिए, बल्कि शिकायकर्ता के संतुष्ठ होने पर होना चाहिए। इसके लिए प्रत्येक रजिस्टर में एक और काॅलम बनाया जाय, जिसमें शिकायतकर्ता द्वारा उसकी शिकायत के समाधान हो जाने की भी टिप्पणी अंकित हो। इसके बाद मुख्यमंत्री ने रजिस्ट्री कार्यालय का भी निरीक्षण करते हुए डीएम को निर्देश दिये कि यहां आने वाले लोगो को कोई समस्या न हो, इसका विशेष ध्यान रखा जाय। साथ ही म्यूटेशन की कार्यवाही को थोड़ा और सरल बनाया जाय। किसी को अनावश्यक असुविधा नही होनी चाहिए। वृद्धों के लिए अलग से काउंटर बनाया जाय। रजिस्ट्री करते समय ही आवेदक को म्यूटेशन की पूरी प्रक्रिया की जानकारी दी जाय। मुख्यमंत्री ने कहा कि कलैक्ट्रेट जनता की अपेक्षा का केन्द्र है। यहां से कार्य संस्कृति का संदेश जनता के बीच अच्छा जाना चाहिए। मुख्यमंत्री श्री रावत ने कलैक्ट्रेट के भूमि अध्यापित, गृह, आबकारी, मनोरंजन कर अधिकारी, भूलेख अधिकारी, एन.आई.सी. ट्रेजरी, आबकारी, सैनिक कल्याण सहित विभिन्न विभागों का निरीक्षण किया। मुख्यमंत्री इसके बाद बार एसोसियेशन के पदाधिकारियों से भी मिले और नव वर्ष की बधाई दी। इससे पूर्व मुख्यमंत्री ने कलैक्ट्रेट स्थित शहीद स्मारक पहंुचकर शहीदों का श्रद्धासुमन भी अर्पित किये। निरीक्षण के दौरान डीएम चन्द्रेश यादव, एस.एस.पी. पुष्पक ज्योति, ए.डी.एम. झरना कामठान, व प्रताप शाह, मुख्यमंत्री के मीडिया प्रभारी सुरेन्द्र कुमार, राजीव जैन, जसबीर रावत, सलाहकार डाॅ. संजय चैधरी आदि उपस्थित थे। कलैक्टेªेट से वापस आते समय मुख्यमंत्री का काफिला चकराता रोड़ होते हुए बल्लुपुर चैक पर पहुंचा। चैक पर पहुंचकर मुख्यमंत्री ने काफिला रूकवाया और जनता के बीच जाकर नव वर्ष की बधाई दी। इसके बाद मुख्यमंत्री ने चैक पर गोपाल शर्मा की चाय की दुकान पर चाय पी। चाय पीते-पीते मुख्यमंत्री ने जनता का अभिवादन स्वीकार किया और नव वर्ष की बधाई दी। मुख्यमंत्री ने लोगो की समस्याओं को भी सुना। उन्होंने बल्लुपुर पर बन रहे फ्लाई ओवर के निर्माण कार्यों की भी जानकारी ली।

Comments

CAPTCHA code

Users Comment