Close X
Friday, October 23rd, 2020

कमेटी का फिलहाल यहां आने का कोई प्लान नही

जयपुर. राजस्थान (Rajasthan) में पिछले दिनों मचे सियासी संग्राम और सुलह के बाद कांग्रेस हाईकमान की ओर से गठित हाई लेवल कमेटी से पूर्व पीसीसी चीफ सचिन पायलट (Sachin Pilot) को काफी उम्मीदें (Expectations) हैं. पायलट ने कहा कि राजस्थान के मुद्दे को लेकर गठित कमेटी का फिलहाल यहां आने का कोई प्लान नही हैं. लेकिन उम्मीद हैं कि बहुत जल्द कमेटी में शामिल लोग यहां नेताओं से मिलेंगे.

बकौल पायलट जिन बिंदुओं पर हमने बात की उन पर चर्चा होगी और उनके सार्थक परिणाम (Meaningful result) भी सामने आएंगे. पायलट ने राजनैतिक नियुक्तियों (Political appointments) और मंत्रिमंडल विस्तार से जुड़े मुद्दे पर कहा सभी चीजों के लिए मापदंड कमेटी के माध्यम से तय होंगे.

सरकार और संगठन का तालमेल बने
पायलट ने कहा कि जिन्होंने ने भी पार्टी के लिए काम किया है उनको राजनैतिक नियुक्तियों से लेकर संगठन आदि में मौका मिलेगा. पायलट के अनुसार हम उन तमाम लोगों की सत्ता में भागीदारी सुनिश्चित करने की बात कर रहे हैं जिन्होंने पार्टी के लिये काम किया है. सबकी कोशिश है कि सरकार और संगठन का तालमेल बने. पद महत्व नही रखता. लेकिन लोगों को एकजुटता का अहसास हो. उन्हें मान सम्मान मिलता रहे.

अजय माकन राजस्थान से परिचित

राजस्थान कांग्रेस के प्रभारी बनने के बाद अजय माकन के पहले प्रदेश दौरे को लेकर पायलट ने कहा कि माकन राजस्थान से परिचित हैं. वे अब प्रभारी के रूप में आएंगे. आने वाले समय में सभी संभागों में जाएंगे. इस दौरान वहां वे नेताओं से चर्चा करेंगे. पायलट से जब पूछा गया कि क्या उनके खेमे के विधायक अलग से माकन से मुलाकात करेंगे तो उन्होने कहा कि कांग्रेस के सभी विधायक एकजुट हैं. सभी की कोशिश है कि आगामी 3 साल में सभी मजबूती से काम कर सके. लक्ष्य ये ही हैं कि सरकार, संगठन, नेता और कार्यकर्ता एकजुट रहकर कार्य करे. PLC.

Comments

CAPTCHA code

Users Comment