Wednesday, April 8th, 2020

कब बदलेंगे हरियाणा में ख़राब बिजली मीटर

dhbvn electric city meterआई एन वी सी,
हरियाणा,
उपभोक्ताओं के खराब बिजली मीटरों को बदलने के लिए एक प्रदेशव्यापी अभियान चलाया जाएगा। दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम व उत्तर हरियाणा बिजली वितरण निगम के अध्यक्ष तथा प्रबन्ध निदेशक श्री देवेन्द्र सिंह ने यह जानकारी आज दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम की ऑप्रेशन गतिविधियों की समीक्षा बैठक में दी।देवेन्द्र सिंह ने ऑप्रेशन विंग के मुख्य महाप्रबन्धकों व महाप्रबन्धकों स्तर के अधिकारियों सहित सभी को आदेश दिए कि 31 अक्टूबर, 2013 तक युद्ध स्तर पर सभी खराब मीटर बदले जायें। उन्होंने कहा कि 10 किलोवॉट से ज्यादा लोड वाले कृषि उपभोक्ताओं को छोड़कर अन्य सभी उपभोक्ताओं के परिसरों में ऑटोमैटिक मीटर रीडिंग के लिए आधुनिक तकनीक के मीटर लगाए जाएं। उन्होंने कहा कि मीटरिंग प्रणाली सही होनी चाहिए ताकि उपभोक्ता वास्तव में इस्तेमाल की गई बिजली का बिल अदा कर सकें। उन्होंने अधिकारियों को सभी वितरक ट्रांसफार्मरों पर डाऊनलोड मीटर लगाना सुनिश्चित करने के लिए कहा तथा कहा कि किसी भी फीडर मीटर में कोई खराबी नहीं होनी चाहिए। अध्यक्ष ने कहा कि मिश्रित तकनीकी व व्यावसायिक घाटा कम करने पर ज्यादा जोर देना होगा। लाईन स्टॉफ सहित सभी कर्मचारी व अधिकारी, जे.ई. तथा सहायक उपमहाप्रबन्धक सब-डिवीजन व फीडर के घाटे के लिए उत्तरदायी होंगे।  देवेन्द्र सिंह ने कहा कि प्रदेश में शीघ्र ही सभी बिल संग्रहण केंद्रों को कंप्यूटरीकृत किया जाएगा। नगद संग्रहण केंद्रों के कंप्यूटरीकृत होने से बिल सम्बन्धी शिकायतें कम होंगी तथा उपभोक्ता द्वारा जमा करवाई गई राशि तुरंत निगम के खाते में जमा हो जाएगी। उन्होंने कहा कि ऑनलाईन उपभोक्ता शिकायत निवारण प्रणाली में और सुधार किया जाएगा ताकि डिस्कॉम के सभी सम्बन्धित कर्मचारी उपभोक्ताओं की शिकायतों की स्थिति की जानकारी ले सकें। उपभोक्ताओं को शिकायतें दर्ज करवाने के लिए कॉल सैंटर, बिजली सुविधा केंद्र, सी.जी.आर.एस. तथा पारम्परिक शिकायत केंद्रों सहित कम से कम चार सुविधाएं दी गई हैं। उपभोक्ता कहीं से भी टेलिफोन या इंटरनेट के माध्यम से शिकायतें दर्ज करवा सकते हैं।   उन्होंने कहा कि कॉल सैंटर के माध्यम से शिकायतें दर्ज करवाने की सुविधा हरियाणा के सभी जिलों में उपलब्ध करवाई जाएगी। 24 जून से उत्तर हरियाणा बिजली वितरण निगम क्षेत्र के उपभोक्ताओं को बिजली आपूर्ति सम्बन्धी शिकायतों के पंजीकरण के लिए कॉल सैंटर की सुविधा उपलब्ध करवाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। इस सुविधा के विस्तार से पूरे प्रदेश के बिजली उपभोक्ता टोल फ्री टेलिफोन नम्बर 18001801615 से अपनी शिकायतें दर्ज करवा सकते हैं। उपभोक्ताओं की शिकायतों को विन्रमता से सुना जाएगा तथा कॉल सैंटर से उपभोक्ताओं की शिकायतों की स्थिति का पता चलता रहेगा तथा उपभोक्ता को शिकायतों की स्थिति के बारे में अवगत करवाया जाएगा।   इस अवसर पर बोलते हुए श्री मोहिन्द्र लाल ए.डी.जी.पी. विजिलैंस, हरियाणा पावर यूटिलिटी ने बताया कि दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम के क्षेत्र में बिजली चोरी से सम्बन्धित शिकायतों का पंजीकरण ऑनलाईन शुरू कर दिया गया है अब तक 300 बिजली चोरी के मामलों को ऑनलाईन दर्ज किया जा चुका है। उन्होंने बताया कि दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम और उत्तर हरियाणा बिजली वितरण निगम के कर्मचारियों को एक विशेष कार्यक्रम चलाकर प्रशिक्षित किया जाएगा ताकि कर्मचारी उस में पारंगत होकर समयबद्ध ढंग से एफ.आई.आर. दर्ज करवाने के लिए शिकायतों का पंजीकरण कर सकें।   उन्होंने यह भी कहा कि सतर्कता प्रकोष्ठ व ऑप्रेशन प्रकोष्ठ द्वारा बिजली चोरी पकड़ने के लिए एक व्यापक अभियान चलाया जाएगा।

Comments

CAPTCHA code

Users Comment