Close X
Thursday, September 23rd, 2021

ऑक्सीजोन पार्क में विश्व स्तरीय सुविधाओं का समावेश

आई एन वी सी न्यूज़
जयपुर,
स्वायत्त शासन मंत्री शांति धारीवाल ने कहा कि ऑक्सीजोन पार्क में विश्व स्तरीय सुविधाओं का समावेश करते हुए अलग-अलग ब्लॉक में सघन पौधरोपण करें जिससे पार्क का नाम चरितार्थ हो सके।

स्वायत्त शासन मंत्री ने रविवार को कोटा में ऑक्सीजोन सहित विभिन विकास कार्यों का निरीक्षण कर रहे थे। उन्होंने कहा कि ऑक्सीजोन पार्क में जो भी निर्माण कार्य चलाये जा रहे हैं, उनमें विश्वस्तरीय तकनीकी का समावेश किया जाए। उन्होंने सम्पूर्ण पार्क का भ्रमण कर मौके पर विकास कार्यों की गुणवत्ता को देखा तथा सुधारात्मक निर्देश प्रदान किये। उन्होंने कहा कि संपूर्ण पार्क में वर्षा पूर्व विभिन्न प्रजातियों के अधिक से अधिक पौधे लगाने का कार्य पूरा किया जाए जिससे वर्षा के दौरान वो विकसित हो सकें।

उन्होंने अलग-अलग ब्लॉक में अलग-अलग प्रजाति के पौधे लगाकर उस ब्लॉक का नामकरण पौधों के आधार पर करने के निर्देश दिए। स्वायत्त शासन मंत्री ने ऑक्सीजोन पार्क में केनाल के समीप आम नागरिकों के भ्रमण के लिए तैयार किये जा रहे भ्रमण पथ के एक तरफ नहर दूसरी तरफ सघन वन के रुप मे पौधे लगाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि यहां आने वाले नागरिकों को कोटा के नहरी क्षेत्र के साथ सघन वन का एहसास भ्रमण के समय हो सके।

उन्होंने निरीक्षण के समय एवीएरी (पक्षीशाला), उल्टा पिरामिड, ग्लोब स्टेचू पर पिघलता लावा, काइनेटिक सर्किल, ट्रीमैन सर्किल, ज्ञान सर्किल का निरीक्षण किया तथा समय पर गुणवत्ता के साथ कार्य पूर्ण करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि हर किनारे 8 फीट का पाथ-वे, उसके बाद 10 फीट का सघन पौधा रोपण कराया जावे जिससे भ्रमण के समय नागरिक नौकायन का भी लुत्फ उठा सकें।

उन्होंने बादाम के पेड़ों के ब्लॉक, नीम के पेड़ों के ब्लॉक तथा विदेशी फूलों के ब्लॉक का भी निरीक्षण किया तथा पार्क के चारों ओर ऑक्सीजोन को बढ़ाने के लिए पीपल व अधिक ऑक्सीजन देने वाले पौधे लगाने के निर्देश दिए। उन्होंने विद्यार्थियों के लिए विज्ञान हाउस, ज्ञान केंद्र, फव्वारा सर्किल, मुख्य द्वार पर निर्माण कार्य का भी निरीक्षण किया तथा कार्य को गति देने के लिए श्रमिकों की संख्या बढ़ाने के निर्देश दिए।

देश की पहली एकीकृत योजना होगी देवनारायण योजना

स्वायत्त शासन मंत्री ने देवनारायण नगर पशुपालक आवासीय योजना का भी निरीक्षण किया तथा विकास कार्यो को समय पर पूरा करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि यह योजना देश की पहली योजना होगी जिसमें पशु पालकों के जीवन सुधार के लिए आधुनिकताओं का समावेश किया गया है। इसमें एक ही स्थान पर दुग्ध संकलन, विपणन एवं प्रसंस्करण की सुविधाएं मिल सकेंगी। पशु पालकों को आधुनिक आवास, गोबर गैस संयंत्र से सीधी गैस सप्लाई, पशुओं के लिए छायादार आवास, चारागाह, नागरिकों को सामुदायिक भवन,  स्वास्थ्य व शिक्षा के संस्थान खोले जाएंगे।

कलादीर्घा के सामने हाट बाजार बनेगा ज्ञान केंद्र

स्वायत्त शासन मंत्री ने हाट बाजार के विकास कार्य का भी निरीक्षण किया तथा वर्तमान में अनुपयोगी भवनों को पुस्तकालय के रुप में विकसित करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र को सांस्कृतिक व ज्ञान केंद्र के रुप मे पहचान मिले। अलग-अलग ब्लॉक में विषयवार पुस्तकालय की सुविधाएं ली जावे। उन्होंने ऑडियो विजुवल लाइब्रेरी का भी समावेश करने के निर्देश दिए। खाली मैदान में आकर्षक पौधरोपण कराने, नागरिकों को सुविधाओं में कॉफी हाउस विकसित करने,  पार्क तथा बावड़ी का सौन्दर्यकरण कराने के निर्देश दिए।

सीवी गार्डन के सामने के रोड का होगा सौन्दर्यकरण

स्वायत्त शासन मंत्री ने सीवी गार्डन के विकास कायोर्ं का निरीक्षण करते समय पार्क में नागरिकों को बैठने के लिए निर्माणाधीन भूमिगत पानी के टैंक के ऊपर प्लेट फार्म बनाने, पौधों की संख्या बढ़ाने के निर्देश दिए। उन्होंने पार्क के मुख्य द्वार को भव्य बनाने के साथ सामने के रोड को भी विकसित कर अतिक्रमण मुक्त करने के निर्देश दिए जिससे पार्क के सामने भी आकषर्क दिखाई दे।

उन्होंने स्टेशन रोड स्थित सुभाष लाइब्रेरी का निरीक्षण कर अधिकारियों से चर्चा की तथा शीतला माता मंदिर के विकास का प्लान भी तैयार कर आकर्षक रुप मे विकसित करने के निर्देश दिए। उहोंने कहा कि रोड की चौड़ाई को यथा स्थिति में रखते हुए कार्य किये जावे जिससे भविष्य में आवागमन सुगम रह सके।

इस दौरान महापौर कोटा दक्षिण राजीव अग्रवाल, यूआईटी के पूर्व अध्यक्ष रविन्द्र त्यागी, जिला कलक्टर उज्ज्वल राठौड़, नगर विकास न्यास के ओएसडी आरडी मीना, सचिव राजेश जोशी, मुख्य अभियंता ओपी वर्मा सहित जनप्रतिनिधि भी उपस्थित रहे।

Comments

CAPTCHA code

Users Comment