Wednesday, August 12th, 2020

एनिमेशन की दुनिया फिल्म और टेलीविजन से बहुत अलग

मुंबई । अभिनेत्री फ्रीडा पिंटो ने एनिमेटेड प्रोजेक्ट पर काम करना दुनिया फिल्‍म और टीवी से बहुत अलग बताया है। फ्रीडा ने कहा कि "एनिमेशन की दुनिया फिल्म और टेलीविजन से बहुत अलग है। आपको रिकॉडिर्ंग करते समय पहले अपनी कल्पनाशक्ति को बढ़ाना होता है, लेकिन इसके साथ ही किरदार में पूरी तरह से समाने के लिए आपको किसी भी तरह के संकोच से भी बाहर निकलना होता है।" दरअसल, हाल ही में फ्रीडा ने एक एनिमेटेड श्रृंखला 'मीरा, रॉयल डिटेक्टिव' पर काम किया है,

 

जो भारतीय संस्कृति और परंपराओं के आसपास बुनी गई है। जलपुर की काल्पनिक भूमि पर बने इस एनिमेटेड श्रृंखला में मीरा की जिंदगी को बयां किया है, जो कि एक आम इंसान है, लेकिन उसे रानी द्वारा शाही जासूस की भूमिका के लिए नियुक्त किया जाता है। एक वॉइस आर्टिस्ट के तौर पर अपने अनुभव के बारे में अभिनेत्री ने कहा, "एक वॉइस आर्टिस्ट होने का मेरा अनुभव बेहद ही दिलचस्प रहा क्योंकि इस तरह के काम का मौका अकसर नहीं मिलता है। जैसे ही उन्होंने मुझे शो और इसमें मौजूद किरदारों के बारे में बताया, मैंने जल्दी ही इस पर काम करने का मन बना लिया, लेकिन मुझे लगता है कि इन पात्रों को आवाज देने में अतिशयोक्ति महसूस होती है क्योंकि आपके पास किसी भी दृश्य का कोई संदर्भ नहीं होता है क्योंकि एनिमेशन में किरदारों को अपनी आवाज देने के साथ ही साथ कहानी आगे बढ़ती जाती है।" इस श्रृंखला में दक्षिण एशिया के कई मशहूर कलाकार जमीला जमील, कल पेन, फ्रीडा, हन्ना सिमोन, उत्कर्ष अंबुडकर, आसिफ मांडवी और अपर्णा नानचेरला शामिल हैं। यह शो भारत में डिजनी चैनल इंडिया के साथ-साथ डिजनी प्लस हॉटस्टार प्रीमियम पर भी स्ट्रीम होता है। बता दें कि अमेरिका में रहने वाली इस भारतीय अभिनेत्री ने साल 2008 में आई ऑस्कर विजेता फिल्म 'स्लमडॉग मिलियनेयर' से प्रसिद्धि पाई थी। उन्होंने इस सीरीज में रानी शांति के किरदार को आवाज दी है। PLC.

Comments

CAPTCHA code

Users Comment