Friday, November 15th, 2019
Close X

एजीएस ट्रांजैक्ट टेक्नोलॉजीज लिमिटेड ने बैंकिंग कारोबार के लिये अमिताभ जयपुरिया को मुख्य कार्यकारी अधिकारी नियुक्त किया

AGS Transact Technologies Ltd,  Amitabh Jaipuria Chief Executive Officer for Banking businessआई एन वी सी ,
दिल्ली,
 एजीएस ट्रांजैक्ट टेक्नोलॉजीज लिमिटेड ने अपने बैंकिंग कारोबार के लिये श्री अमिताभ जयपुरिया को ‘मुख्य कार्यकारी अधिकारी‘नियुक्त करने की घोषणा की है। कारोबार जगत में श्री अमिताभ वरिष्ठ एवं प्रतिष्ठित व्यक्ति हैं। उन्हें विभिन्न अग्रणीबहुराष्ट्रीय एवं भारतीय संस्थानों में कार्य करने का 23 वर्ष से अधिक का अनुभव प्राप्त है।  श्री जयपुरिया ने भारत में ड्यूरेबल्स से लेकर एफएमसीजी, सेवा, कृषि आदि विभिन्न क्षेत्रों, बाजारों एवं कंपनियों में कार्य किया है। यही नहीं, उन्हें नयी कंपनियों से लेकर स्थिर व्यवसायों और बड़े भारतीय घरानों से लेकर अग्रणीएमएनसी में भी कार्य करने का अनुभव है।
एजीएस में शामिल होने से पूर्व श्री अमिताभ भारत में मॉन्सैंटो की सूचीबद्ध कंपनी मॉन्सैंटो इंडिया लिमिटेड (एमआइएल) में पिछले 5 वर्षों से प्रबंध निदेशक के पद पर कार्यरत थे। उन्होंने एमआइएल में कंपनी के विभिन्न लक्ष्यों के प्रति महत्वपूर्ण भूमिका निभायी। इनमें कंपनी, कारोबार, कर्मचारी एवं साझीदार प्रबंधन शामिल है।  एजीएस के चेयरमैन एवं प्रबंध निदेशक श्री रवि गोयल ने कहा, ‘‘श्री अमिताभ का हमारे संस्थान से जुड़ना हमारे लिए खुशी की बात है। वे अपने साथ न सिर्फ व्यापक अनुभव लायेंगे, बल्कि हमारे कारोबार की अच्छी समझ एवं जबर्दस्त रचनात्मकता, ऊर्जा और उत्साह भी लेकर आयेंगे। अमिताभ कंपनी के कारोबार के विकास और विभिन्न विभागों के विकास को आगे बढ़ाने में हमारी मदद करने में अहम भूमिका निभायेंगे। मुझे विश्वास है कि उनके योग्य मार्गनिर्देशन के तहत एजीएस देश में अपनी बाजारअग्रणी स्थिति को और मजबूत करेगी।‘‘  एजीएस में ‘मुख्य कार्यकारी अधिकारी-बैंकिंग‘ के तौर पर अपनी नियुक्ति पर श्री जयपुरिया ने कहा, ‘‘मैं एजीएस में अपनी नयी भूमिका को लेकर बहुत उत्साहित हूं। संस्थान विकास के लिहाज से एक नये मुकाम को हासिल करने के लिए तैयार है। खोजपरक उत्पाद और सामर्थ्यवान ग्राहकों एवं अंतिम उपयोक्ताओं को व्यक्तिगत अनुभव उपलब्ध कराने के लिये मैं एजीएस की शानदार टीम के साथ कार्य करूंगा।‘‘

Comments

CAPTCHA code

Users Comment