ई दिल्ली । कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने अर्थव्यवस्था की स्थिति को लेकर सोमवार को सरकार पर निशाना साधकर दावा किया कि नोटबंदी, गलत जीएसटी और लॉकडाउन का मकसद असंगठित क्षेत्र को खत्म करना है। उन्होंने कहा कि अगर असंगठित क्षेत्र नष्ट हो गया,तब देश रोजगार पैदा नहीं कर पाएगा। राहुल गांधी ने कहा,जब 2008 में जबरदस्त आर्थिक तूफान आया,तब मैंने तत्कालीन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह से पूछा था कि पूरी दुनिया में आर्थिक नुकसान हुआ है, मगर हिंदुस्तान में कोई असर क्यों नहीं हुआ? उन्होंने कहा था कि जब तक हिंदुस्तान का असंगठित सिस्टम मजबूत है, तब तक देश को कोई भी आर्थिक तूफान छू नहीं सकता। राहुल ने आरोप लगाया,पिछले 6 साल से भाजपा की सरकार ने असंगठित क्षेत्र की व्यवस्था पर आक्रमण किया है। इसके 3 बड़े उदाहरण नोटबंदी, गलत जीएसटी और लॉकडाउन हैं। उन्होंने किया,यह मत सोचिए कि लॉकडाउन के पीछे सोच नहीं थी। यह मत सोचिए कि आखिरी मिनट पर लॉकडाउन कर दिया गया। इन तीनों का लक्ष्य हमारे असंगठित क्षेत्र को खत्म करने का है। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने आरोप लगाया,प्रधानमंत्री जी को अगर सरकार चलानी है,तब मीडिया की जरूरत है, मार्केटिंग की जरूरत है। मीडिया और मार्केटिंग 15-20 लोग करते हैं।यहीं लोग असंगठित क्षेत्र का पैसा लेना चाहते हैं।उन्होंने कहा कि असंगठित क्षेत्र 90 प्रतिशत से ज्यादा रोजगार देता है। जिस दिन इनफॉरमल सेक्टर नष्ट हो गया उस दिन हिंदुस्तान रोजगार नहीं पैदा कर पाएगा। PLC.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here