आई एन वी सी न्यूज़ भोपाल ,

प्रदेश में रबी सीजन में उर्वरकों की उपलब्धता के संबंध में कुछ स्थानों पर फैल रही अफवाहों के मद्देनजर कृषि विभाग ने उर्वरक उपलब्धता की स्थिति स्पष्ट की है। प्रदेश में आगामी 7 दिवसों के लिये सभी उर्वरक प्रदायकों को रैकवार कार्यक्रम जारी किया गया है।

विगत वर्ष नवम्बर माह से 25 प्रतिशत अधिक मात्रा की खपत को आंकलित करते हुए खाद उपलब्धता सुनिश्चित कराई जा रही है। भारत सरकार, रसायन एवं उर्वरक मंत्रालय, उर्वरक विभाग, नई दिल्ली ने वर्तमान रबी सीजन की यूरिया की आवश्यकता को ध्यान में रखते हुए प्राथमिकता पर यूरिया की रैक मूवमेंट के लिये यह आदेश जारी किया है। विगत वर्ष प्रदेश में 3.50 लाख मीट्रिक टन यूरिया उपलब्धता के विरूद्ध वर्तमान में 5 लाख मीट्रिक टन यूरिया की उपलब्धता नवम्बर माह के लिये सुनिश्चित की गई है। नवम्बर माह में अभी तक 2 लाख 75 हजार मीट्रिक टन यूरिया प्रदेश में आ चुका है और लगभग 2 लाख 25 हजार मीट्रिक टन यूरिया और आने की संभावना है।

भारत सरकार द्वारा प्रदेश में यूरिया प्रदाय करने की प्राथमिकता सभी कंपनियों को दी गई है। रेलवे ने भी पोर्ट पर रखे आयातित यूरिया को प्रदेश में लाने के लिये यूरिया कंपनियों को प्राथमिकता देने का आदेश कर दिया है। वर्तमान में यूरिया की हरदा में तीन, मांगलिया, इटारसी और सतना में दो-दो और छिंदवाड़ा, खण्डवा, सीहोर, बैतूल, सागर, रतलाम और मुरैना में एक-एक रैक ट्रांजिट में है।

अगले 10 दिन में 2.5 लाख मीट्रिक टन यूरिया के परिवहन की व्यवस्था

कृषि विभाग द्वारा आगामी दिनों में निम्न रैक पाइंटों पर यूरिया की रैक लाने के लिये उर्वरक कंपनियों को निर्देश दिये गये हैं। उज्जैन के लिये 04, शाजापुर के लिये 03, नीमच के लिये 03 (नीमच एवं मंदसौर हेतु), देवास में 04, इंदौर में 06 रैक (इंदौर, धार, खरगोन हेतु), मेघनगर में 02 (झाबुआ, अलीराजपुर), खण्डवा के लिये 04 (खंडवा, खरगोन, बुरहानपुर), हरदा में 03, विदिशा में 03, भोपाल में 01, सीहोर में 02, मंडीदीप में 04 (रायसेन, सीहोर), पचौर में 03 (राजगढ़), इटारसी में 06 (होशंगाबाद), पिपरिया में 02 (होशंगाबाद हेतु), बैतूल में 02, छतरपुर में 02, दमोह में 02, टीकमगढ़ में 01, सतना में 03 (सतना, सीधी, सिंगरौली), रीवा में 02 (रीवा, सीधी, सिंगरौली), सागर में 03, नरसिंहपुर में 02, जबलपुर में 04 (जबलपुर, मंडला, डिण्डोरी), कटनी में 03 (कटनी, पन्ना, शहडोल, उमरिया, अनूपपुर), छिंदवाड़ा में 03 (छिंदवाड़ा, सिवनी), डबरा में 01 (ग्वालियर, दतिया), ग्वालियर में 03 (ग्वालियर, दतिया, भिण्ड), शिवपुरी में 04 (शिवपुरी, श्योपुर, अशोकनगर), अशोकनगर में 01, मुरैना में 04 (मुरैना, भिण्ड)।

सहकारिता विभाग के अनुसार आज से प्रत्येक सोसायटी में यूरिया के परिवहन एवं उपलब्धता संबंधी जानकारी प्रदर्शित करने की व्यवस्था की गई है। सहकारी समितियों को खाद उपलब्धता के संदर्भ में दिनाँकवार जानकारी प्रदर्शित करने हेतु निर्देशित किया गया है। सहकारी प्राथमिक कृषि साख समितियों एवं विपणन समितियों द्वारा सुचारू रूप से खाद वितरण किया जा रहा है। साथ ही निजी क्षेत्र के वितरण प्रणाली से भी खाद उपलब्धता प्रदेश में सुनिश्चित की गई है। पिछले साल इस समय तक रबी हेतु वितरित खाद की खपत से लगभग 10 से 15 प्रतिशत अधिक खाद की व्यवस्था की जा चुकी है।