गुलाबचंद कटारिया आई एन वी सी न्यूज़आई एन वी सी न्यूज़
जयपुर,
गृहमंत्री गुलाबचंद कटारिया ने शुक्रवार को उदयपुर नगर निगम, नगर विकास प्रन्यास एवं जिला प्रशासन के साझे में फतहसागर की पाल एवं दूधतलाई पर आयोजित फ्लॉवर शो का अवलोकन किया।
उन्होंने कहा कि ऐसे आयोजन निश्चय ही उदयपुर की खूबसूरती को और अधिक बढ़ाने की दिशा में सार्थक प्रयास हंै। उन्होंने कहा कि आमजन को शहर को हर स्तर पर साफ सुथरा, सुंदर और आकर्षक बनने के लिए जागरूक होना चाहिए जिससे उदयपुर आने वाला हर पर्यटक सुनहरी एवं चिरस्थायी यादें लेकर यहां से जाये।
अवलोकन के दौरान उन्होंने माणिक्यलाल वर्मा पार्क, सहेलियों की बाड़ी आदि स्थलों पर व्यक्तिगत ध्यान देकर आकर्षक बनाने के कदम उठाने एवं निर्माण अथवा मरम्मत संबंधी खामियों को तुरंत दूर करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि शहर के सभी पर्यटक स्थल पर्यटक को सुकून देने वाले हों ऐसे में जिम्मेदार विभाग खामी में सुधार के लिए अपने ठेकेदारों को पाबंद करें। उन्होंने अभियंताओं को इसकी सतत मॉनिटरिंग करने को कहा। उन्होंने शहर  के बागवानी व फुलवारी में रूचि रखने वाले लोगों को लघु कृषि उपकरण आसानी से उपलब्ध हो सके इसके लिए ऐसी प्रदर्शनियों में स्टॉल लगवाने की भी आवश्यकता बतायी।
मेयर श्री चन्द्रसिंह कोठारी ने बताया कि शहरवासियों में पर्यावरण के प्रति जागरूकता लाने व उदयपुर आने वाले पर्यटकों को अनूठा अनुभव प्रदान करने के लिए पुष्प प्रदर्शनी विगत तीन वर्षों से आयोजित की जा रही है। साथ ही बच्चों को भी छोटे पौधे देकर पर्यावरण संरक्षण में जोडऩे का प्रयास किया जा रहा है। आगामी समय में गुलाबाबग में फूलों की वृहद प्रदर्शनी आयोजन करने की भी योजना है। निगम शहर के विविध पार्काें को आम नागरिक जागरूक संस्थाओं को गोद दे रहा है जिससे ये संरक्षित रह सके साथ ही इन्हें अधिक आकर्षक बनाया जा सके।
इस मौके पर नगर विकास प्रन्यास अधिकारी सहित अन्य अधिकारी एवं बड़ी संख्या में गणमान्य लोग मौजूद थे।
प्रदर्शनी में करीब शताधिक अलग-अलग फूलों की प्रजातियां आमजन को लुभा रही हैं। इनमें तीन दिन तक खिले रहने वाला चाइना रोज, ग्राफ्टेट रंग-बिरंगा केक्टस, एंटीराइनम, रेनकुलस, परमुल्ला, ट्राइनथम, केल, एन्थोरियम, क्रासनार्थयम, पिटोनिया, गजमेनिया, यूपोरबिया, डहैलिया, गुल दाउदी, सनेरिया, ड्राफ, पेन्जी, जिरेनियम सहित सजावटी पौधों की प्रजातियां बड़ी श्रृंखला में शामिल की गई हैं। साथ ही गो-ऑर्गेनिक को बढ़ावा देने एक जीवंत प्रदर्शनी भी लगाई गई है।
जिला कलक्टर रोहित गुप्ता ने फतहसागर पाल पर प्रदर्शनी का अवलोकन करते हुए इसे पाल के दोनों छोर तक विस्तारित करने एवं पुष्पों की मात्रा को बढ़ाने की बात कही। उन्होंने प्रदर्शनी में आने वाले दर्शकों को प्रोत्साहित करने एवं फूलों को घरों में लगाने के लिए तकनीकी जानकारी भी देने की बात कही।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here