Wednesday, May 27th, 2020

उत्तर प्रदेश लोक अदालत - 9 लाख के करीब मुकदमे खारिज -आम आदमी की बड़ी रहत

uttar pradesh lok adalatआई एन वी सी ,
लखनऊ , पूरे उत्तर प्रदेश में आज आयोजित लोक अदालत के अन्तर्गत कुल 8,95,549 मुकदमे निस्तारित किए गए। यह जानकारी उत्तर प्रदेश राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के सदस्य सचिव श्री राघवेन्द्र कुमार ने आज यहां दी। सदस्य सचिव ने बताया कि उत्तर प्रदेश राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के मुख्य संरक्षक एवं इलाहाबाद उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधिपति माननीय डॉ0 न्यायमूर्ति धनंजय यशवंत चन्द्रचूड़ तथा राज्य प्राधिकरण के कार्यपालक अध्यक्ष व इलाहाबाद उच्च न्यायालय के वरिष्ठ न्यायाधीश माननीय न्यायमूर्ति श्री शिव कुमार सिंह के कुशल नेतृत्व एवं मार्ग निर्देशन में उ0प्र0 राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के तत्वावधान में कुल 8,95,549 मुकदमे निस्तारित हुए, जिनमें मोटर दुर्घटना प्रतिकर पिटीशन, सिविल वाद, लघु दाण्डिक वाद, विशेष अधिनियमों के अन्तर्गत चालानी वाद, धारा-138 पराक्रम्य लिखत अधिनियम के वाद, बैंक वसूली वाद, विद्युत अधिनियम के वाद, वैवाहिक वाद आदि सम्मिलित हैं। इसके अतिरिक्त उक्त संख्या में इलाहाबाद उच्च न्यायालय विधिक सेवा समिति, इलाहाबाद द्वारा निस्तारित की गई 419 अपीलें भी सम्मिलित हैं। निस्तारित किए गए मुकदमों की संख्या और भी बढ़ सकती है। श्री राघवेन्द्र कुमार ने बताया कि उक्त के अतिरिक्त राजस्व परिषद द्वारा 58,638 मामले, चकबन्दी आयुक्त द्वारा 41,000 वाद, स्थानीय निकायों द्वारा 274 मामले, राज्य सूचना आयोग द्वारा 1802 प्रकरण, पासपोर्ट के 19 मामले, दूरभाष से सम्बन्धित 139 मामले, 613 उपभोक्ता सम्बन्धी वाद, 1800 स्टाम्प वाद व 57 विधिक सेवा के प्रकरण इस राष्ट्रीय लोक अदालत में निस्तारित किए गए हैं। ज्ञातव्य है कि राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण के कार्यपालक अध्यक्ष माननीय न्यायमूर्ति सर्वोच्च न्यायालय भारत श्री जी0एस0सिंघवी के निर्देशानुसार सम्पूर्ण भारत में आज राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन किया गया है। -

Comments

CAPTCHA code

Users Comment