Close X
Saturday, September 19th, 2020

उत्तर प्रदेश कोरोना टेस्टिंग करने वाले राज्यों में अग्रणी

आई एन वी सी न्यूज़  
लखनऊ ,
उत्तर प्रदेश के अपर मुख्य सचिव सूचना एवं गृह श्री अवनीश कुमार अवस्थी ने आज यहां लोक भवन में प्रेस प्रतिनिधियों को सम्बोधित करते हुए बताया कि मुख्यमंत्री जी ने कहा है कि कोविड-19 के सम्बन्ध में राज्य मुख्यालय तथा जनपदों में संचालित इंटीगे्रटेड कमाण्ड एण्ड कंट्रोल सिस्टम पूरी सक्रियता से कार्य करे। उन्होंने कहा है कि यदि किसी जनपद में इंटीग्रेटेड कमाण्ड एण्ड कंट्रोल सेन्टर सुचारु रूप से कार्य नहीं करेगा तो सम्बन्धित जिलाधिकारी की जवाबदेही सुनिश्चित की जाएगी। उन्होंने कहा है कि कोविड-19 के संक्रमण की चेन को तोड़ने के लिए पूरी सतर्कता बरतने के साथ-साथ प्रत्येक स्तर पर प्रभावी कार्यवाही किया जाना आवश्यक है। उन्होंने जिलाधिकारियों को निर्देशित किया गया है कि वे कोविड-19 के दृष्टिगत व्यवस्थाओं की प्रभावी माॅनिटरिंग सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि प्रत्येक जिलाधिकारी इस दिशा में अपने जनपद में की जा रही कार्यवाही की प्रतिदिन सुबह व शाम नियमित तौर पर समीक्षा करें।
श्री अवस्थी ने बताया कि मुख्यमंत्री जी ने कहा है कि सभी सरकारी तथा निजी कोविड तथा नाॅन कोविड चिकित्सालयों में मेडिकल संक्रमण से सुरक्षा के समस्त प्रबन्ध किए जाएं। इसके साथ ही, समस्त सरकारी एवं निजी अस्पतालों में फायर सेफ्टी की भी प्रभावी व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। उन्होंने डी0जी0, फायर सर्विस को अग्नि सुरक्षा के सम्बन्ध में समस्त चिकित्सालयों का निरीक्षण कराने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने बताया कि अग्निशमन अधिकारी अपने-अपने जनपदों के चिकित्सालयों का निरीक्षण कर अग्नि सुरक्षा के उपायों का प्रबन्धन सुनिश्चित करायेंगे साथ ही अग्नि सुरक्षा उपकरणों के संचालन का प्रशिक्षण भी देंगे। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री जी ने डोर-टू-डोर सर्वे के कार्य को प्रभावी ढंग से जारी रखने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा है कि काॅन्टेक्ट ट्रेसिंग का कार्य सुव्यवस्थित ढंग से सम्पन्न किया जाए। होम आइसोलेशन में रह रहे मरीजों के स्वास्थ्य की जानकारी इंटीग्रेटेड कमाण्ड एण्ड कंट्रोल सेन्टर द्वारा प्रतिदिन प्राप्त की जाए। एल-2 तथा एल-3 कोविड अस्पतालों में बेड्स की संख्या में वृद्धि की जाए। उन्होंने जनपद लखनऊ, कानपुर नगर, वाराणसी, आजमगढ़, प्रयागराज, गोरखपुर तथा बरेली में विशेष सतर्कता बरतते हुए इन जिलों की चिकित्सा व्यवस्थाओं को और बेहतर किए जाने के निर्देश दिए हैं।
श्री अवस्थी ने बताया कि मुख्यमंत्री जी ने जनपदों में स्थापित जिला सेवा योजन कार्यालय तथा जिला उद्योग केन्द्र को सक्रिय करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा है कि इससे आत्मनिर्भर उत्तर प्रदेश बनाने में मदद मिलेगी। उन्होंने बाढ़ व जलमग्न क्षेत्रों में प्रभावित लोगों को समय से राहत सामग्री उपलब्ध कराए जाने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा है कि राहत कार्यों को बेहतर ढंग से संचालित करने के लिए आवश्यकतानुसार अतिरिक्त नावों का प्रबन्ध किया जाए। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री जी ने वरिष्ठ मंत्रियों को भी बाढ़ प्रभावित जनपदों का निरीक्षण करने के निर्देश दिये है।
श्री अवस्थी ने बताया कि गृह विभाग की धारा 188 के तहत 1,74,120 एफआईआर दर्ज करते हुये 3,50,647 लोगों को नामजद किया गया है। उन्होंने लोगो ंसे अपील की है कि मास्क पहनने तथा दो गज की दूरी बनाये रखे। प्रदेश में अब तक 1,17,16,156 वाहनांे की सघन चेकिंग में 66,651 वाहन सीज किये गये। चेकिंग अभियान के दौरान 59,12,98,649 रूपए का शमन शुल्क वसूल किया गया। कालाबाजारी एवं जमाखोरी करने वाले 1,060 लोगों के विरूद्ध आवश्यक वस्तु अधिनियम के अन्तर्गत 783 एफआईआर दर्ज किये गये है। फेक न्यूज के अन्तर्गत 2132 मामलों को संज्ञान में लेते हुए कार्यवाही की गयी हैं। उन्होंने बताया कि प्रदेश के 10,142 हाॅट स्पाॅट के 1077 थानान्तर्गत 14,30,151 मकानों के 85,71,867 लोगों को चिन्हित किया गया है। इन हाटॅस्पाॅट क्षेत्रों में कोरोना पाॅजिटिव लोगों की संख्या 38,121 है। इंस्टीट्यूशनल क्वारंटाईन किये गये लोगों की संख्या 18,599 है। उन्होंने बताया कि राज्य सड़क परिवहन निगम की बसों के माध्यम से कल 10.40 लाख से अधिक लोगों ने यात्रा की।
श्री अवस्थी ने बताया कि प्रदेश के 75 जनपदों में एल-1, एल-2 तथा एल-3 स्तर के कुल 302 कोविड अस्पताल बनाये गये है। प्रदेश में टेस्टिंग का कार्य तेजी से किया जा रहा है। कल एक दिन में 95,737 सैम्पल की जांच की गयी, जिसमें 64,188 रेपिड एन्टीजन टेस्ट तथा शेष आर0टी0पी0सी0आर0, ट्रूनेट मशीन तथा अन्य विधि से जांच की गयी। इस प्रकार कोविड-19 की जांच में 28 लाख का आकड़ा पार करते हुए प्रदेश में अब तक 28,93,424 सैम्पल की जांच की गयी है। उन्होंने बताया कि उत्तर प्रदेश टेस्टिंग मंे अग्रणी है। प्रदेश में विगत 24 घंटंे में कोरोना के 4467 नये मामले आये है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में 44,563 कोरोना के मामले एक्टिव हैं, जिसमें 15,035 मरीज होम आइसोलेशन, 1325 लोग प्राइवेट हास्पिटल में तथा 170 मरीज सेमी पेड फैसिलिटी में तथा इसके अतिरिक्त शेष कोरोना संक्रमित एल-1, एल-2, एल-3 के कोरोना अस्पतालों में है। अब तक 66,834 मरीज पूरी तरह से उपचारित हो चुके हैं। उन्होंने बताया कि पूल टेस्ट के अन्तर्गत कुल 2319 पूल की जांच की गयी, जिसमें 2104 पूल 5-5 सैम्पल के तथा 215 पूल 10-10 सैम्पल की जांच की गयी।
श्री अवस्थी ने बताया कि प्रदेश में सर्विलांस की कार्यवाही के अन्तर्गत 2,25,066 सर्विलांस टीम द्वारा 1,59,96,729 घरों के 8,05,63,148 लोगों का स्वास्थय विभाग से प्राप्त रिर्पोट के अनुसार सर्वेक्षण किया गया है।

Comments

CAPTCHA code

Users Comment